दिल्ली में 27 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले, 40 मरीजों की मौत से बढ़ी सरकार की चिंता

 

दिल्ली 27 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले,

दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली में बुधवार को कोरोना के 27561 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही 40 मरीजों की मौत ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। संक्रमण दर बढ़कर 26.22 प्रतिशत हो गई है।

नई दिल्ली, संवाददाता। राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली में बुधवार को कोरोना के 27561 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही 40 मरीजों की मौत ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। संक्रमण दर बढ़कर 26.22 प्रतिशत हो गई है।स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़े के अनुसार, 14 हजार 957 मरीज स्वस्थ भी हुए। दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 87 हजार 445 हो गई है।दिल्ली में 56991 लोग होम आइसोलेशन में हैं। जबकि 2264 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। जिनमें से 739 मरीजों को आक्सीजन पर रखा गया है। 91 मरीज वेंटिलेटर पर हैं। इससे पहले मंगलवार को कोरोना के 21,161 नए मामले सामने आए थे। पिछले दिनों कोरोना के मामले दो से तीन दिन में दोगुने हो रहे थे। अभी छह दिन में मामले दोगुने हुए हैं। मंगलवार को कोरोना से 23 मरीजों की मौत हुई थी।

वहीं, दिल्ली में कोरोना के मामलों में बढ़ाेतरी को देखते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय को दो दिनों के लिए पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है। शैक्षणिक, गैर शैक्षणिक कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है। इस दौरान पूरेे परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा।

बता दें कि राजधानी में संक्रमण के मामलों में जो तेज उछाल आ रहा है। उसकी वजह ओमिक्रोन वैरिएंट ही है। इसकी पुष्टि जीनोम सीक्वेंसिंग की हालिया रिपोर्ट में हुई। इसके मुताबिक 79 प्रतिशत सैंपल में ओमिक्रोन वैरिएंट मिला है। राजधानी में एक से आठ जनवरी के बीच लिए गए 511 सैंपल को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था। इसकी रिपोर्ट मंगलवार को मिल गई है। इसके मुताबिक 402 सैंपल यानी 79 प्रतिशत में ओमिक्रोन वैरिएंट मिला है, जबकि 17 प्रतिशत से ज्यादा सैंपल में डेल्टा वैरिएंट पाया गया है। इसके अलावा करीब चार प्रतिशत सैंपल में दूसरे वैरिएंट भी पाए गए हैं। इससे पहले 25 से 31 दिसंबर की रिपोर्ट में 28 प्रतिशत ओमिक्रोन, 32 प्रतिशत मामले डेल्टा के और 38 प्रतिशत मामले अन्य वैरिएंट के मिले थे।