पीएम मोदी करेंगे मणिपुर और त्रिपुरा का दौरा, 4800 करोड़ की 22 परियोजना का करेंगे उद्घाटन

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र दमोदर मोदी की फाइल फोटो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चार जनवरी को मणिपुर और त्रिपुरा का दौरा करेंगे। प्रधानमंत्री इंफाल में 4800 करोड़ रुपये से अधिक की 22 विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे और अगरतला में महाराजा बीर बिक्रम हवाई अड्डे पर नए एकीकृत टर्मिनल भवन का उद्घाटन करेंगे।

नई दिल्ली, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चार जनवरी को मणिपुर और त्रिपुरा का दौरा करेंगे। इस दौरान वह कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। रविवार को एक बयान में प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने कहा कि प्रधानमंत्री इम्फाल में 4,800 करोड़ रुपये से अधिक की 22 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करेंगे। इसके बाद अगरतला में प्रधानमंत्री महाराजा बीर बिक्रम हवाई अड्डे पर नए एकीकृत टर्मिनल भवन का उद्घाटन करेंगे और दो प्रमुख विकास परियोजनाओं को भी शुरू करेंगे। विधानसभा चुनाव वाले राज्य मणिपुर में पीएम मोदी लगभग 1,850 करोड़ रुपये की 13 परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और लगभग 2,950 करोड़ रुपये की नौ परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। ये परियोजनाएं विभिन्न क्षेत्रों जैसे सड़क अवसंरचना, पेयजल आपूर्ति, स्वास्थ्य, शहरी विकास, आवास, सूचना प्रौद्योगिकी, कौशल विकास, कला और संस्कृति आदि से संबंधित हैं।बयान में कहा गया है कि कनेक्टिविटी में सुधार के लिए देशव्यापी परियोजनाओं के अनुरूप प्रधानमंत्री 1,700 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनने वाली पांच राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं के निर्माण की आधारशिला रखेंगे। 110 किमी से अधिक की लंबाई के इन राजमार्गों का निर्माण क्षेत्र की सड़क संपर्क में सुधार के लिए एक बड़ा कदम होगा। एक और महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा इंफाल से सिलचर के लिए यातायात की भीड़ को कम करने के लिए निर्बाध कनेक्टिविटी को बढ़ाएगा। 75 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से निर्मित एनएच -37 पर बराक नदी पर बने स्टील ब्रिज का निर्माण है। इस स्टील ब्रिज का उद्घाटन प्रधानमंत्री द्वारा किया जाएगा। मणिपुर के लोगों को लगभग 1,100 करोड़ रुपये की लागत से बनाए गए 2,387 मोबाइल टावर प्रधानमंत्री समर्पित करेंगे। यह राज्य की मोबाइल कनेक्टिविटी को और बढ़ावा देने की दिशा में एक बड़ा कदम होगा।

पीएमओ ने कहा कि पीएम मोदी राज्य में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। राज्य में स्वास्थ्य क्षेत्र को मजबूत करने के प्रयास में प्रधानमंत्री पीपीपी माडल पर इंफाल में लगभग 160 करोड़ रुपये के 'स्टेट ऑफ द आर्ट कैंसर अस्पताल' की आधारशिला रखेंगे। इसके अलावा कोविड से संबंधित बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के लिए राज्य में प्रधानमंत्री कियामगेई में 200 बिस्तरों वाले कोविड अस्पताल का उद्घाटन करेंगे, जिसे डीआरडीओ के सहयोग से लगभग 37 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित किया गया है। भारतीय शहरों का कायाकल्प और परिवर्तन, 'इम्फाल स्मार्ट सिटी मिशन' के तहत कई परियोजनाओं में पूरा किया जाएगा।

प्रधानमंत्री हरियाणा के गुड़गांव में मणिपुर इंस्टीट्यूट ऑफ परफार्मिंग आर्ट्स के निर्माण की आधारशिला भी रखेंगे। त्रिपुरा की अपनी यात्रा के दौरान पीएम मोदी महाराजा बीर बिक्रम (एमबीबी) हवाई अड्डे के नए एकीकृत टर्मिनल भवन का उद्घाटन करेंगे और प्रमुख पहलों का शुभारंभ करेंगे। कार्यक्रम में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

महाराजा बीर बिक्रम हवाई अड्डे का नया एकीकृत टर्मिनल भवन, लगभग 450 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित आधुनिक सुविधाओं से युक्त 30,000 वर्ग मीटर में फैला एक अत्याधुनिक भवन है और नवीनतम आईटी नेटवर्क एकीकृत प्रणाली द्वारा समर्थित है। पीएम मोदी चार जनवरी को अन्य योजनाओं के साथ मुख्यमंत्री ग्रामीण सुरक्षा योजना (एमएमजीएसवाई) और विद्याज्योति स्कूलों प्रोजेक्ट मिशन भी शुरू करेंगे।

इसके तहत ग्राम पंचायतों को गांवों के विकास के लिए धन आवंटन किया जाएगा। विद्याज्योति स्कूलों के प्रोजेक्ट मिशन 100 का उद्देश्य राज्य में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है, जिसमें 100 मौजूदा उच्च / उच्च माध्यमिक विद्यालयों को अत्याधुनिक सुविधाओं और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ विद्याज्योति स्कूलों में बदलाव किया गया है। मुख्यमंत्री त्रिपुरा ग्राम समृद्धि योजना का उद्देश्य ग्राम स्तर पर मुख्य विकास क्षेत्रों में सेवा वितरण बेंचमार्क मानकों को हासिल करना है।

त्रिपुरा में वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य के दौरे के लिए व्यापक बैठक की और सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। डीएम देबप्रिया बर्धन के अनुसार, प्रशासन को बाद में होने वाली रैली के लिए लगभग 25,000 लोगों के इकट्ठा होने की उम्मीद है। कार्यक्रम स्थल पर वीआईपी और वीवीआईपी के लिए कई प्रवेश द्वार बनाए जाएंगे। 

पिछले महीने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के अध्यक्ष अरविंद सिंह ने टर्मिनल भवन में किए जा रहे कार्यों की प्रगति की समीक्षा के लिए राज्य का दौरा किया था। अगरतला हवाई अड्डे का डिजाइन और निर्माण 1942 में त्रिपुरा के तत्कालीन महाराज बीर बिक्रम किशोर माणिक्य बहादुर देबबर्मन द्वारा किया गया था