रिश्तेदार बनकर मांगी मदद, ठग लिए 50 हजार रुपये, पुलिस जांच में जुटी

 

पीड़ित गौतम नागर के बयान पर पुलिस केस दर्ज कर जांच कर रही है।

मानसरोवर पार्क में इलाके में एक युवक से ठगी का मामला सामने आया है। ठग ने रिश्तेदार बनकर मदद के बहाने युवक से 50 हजार रुपये की रकम ठग ली। एक लिंक भेजकर ठग ने पीड़ित के खाते से रकम साफ की।

नई दिल्ली  ,surender aggarwal। मानसरोवर पार्क में इलाके में एक युवक से ठगी का मामला सामने आया है। ठग ने रिश्तेदार बनकर मदद के बहाने युवक से 50 हजार रुपये की रकम ठग ली। एक लिंक भेजकर ठग ने पीड़ित के खाते से रकम साफ की। पीड़ित गौतम नागर के बयान पर पुलिस केस दर्ज कर जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार गौतम नागर परिवार के साथ मानसरोवर पार्क में रहते हैं। उनके पास एक अज्ञात शख्स फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को उनका रिश्तेदार बताया। उसने पीड़ित से कहा कि उसका एक जानकार पेमेंट (भुगतान) करने वाला है, लेकिन उसका पेमेंट लेने का कोई आनलाइन माध्यम नहीं है। उसने पीड़ित से कहा कि वह उसके फोन पे पर पेमेंट भिजवा रहा है।

पीड़ित उसके झांसे में आ गए और पेमेंट लेने के लिए तैयार हो गए। ठग ने उनके फोन पर एक लिंक भेजकर उसे खोलने के लिए, पीड़ित ने जब लिंक खोला तो उसमें कुछ नहीं था। इसके कुछ देर बाद उनके खाते से 50 हजार रुपये निकल गए। पीड़ित ने आरोपित को फोन किया तो उसने अपना नंबर बंद कर दिया था। पुलिस बैंक खातों की जांच कर ठग का पता लगाने का प्रयास कर रही है।

इधर, महरौली थाना पुलिस ने एक लुटेरे को गिरफ्तार कर उससे लूट का मोबाइल बरामद कर लिया है। आरोपित की पहचान सिद्धार्थ के रूप में हुई है। 26 नवंबर 2021 को छतरपुर फेज दो में लूट की एक घटना हुई थी। पीडि़त आटो रिक्शा चालक ने बताया था कि दो लोगों ने उसे 100 फुटा रोड चलने को कहा और जब वह आटो के साथ फेज दो स्थित जंगल के पास पहुंचा तो दोनों ने आटो रोककर उससे मोबाइल फोन और 1500 रुपेये लूट लिए। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने आरोपित सिद्धार्थ उर्फ लाला को गिरफ्तार कर लिया।