केजरीवाल के मोहल्ला क्लीनिक की टक्कर में हरियाणा में अनिल विज के मोबाइल अस्पताल

 

हरियाणा में सरकार ने मोबाइल अस्‍पताल शुरू किए हैंं। (फाइल फोटो)

हरियाणा सरकार ने राज्‍य के लोगों को बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं उपलब्‍ध कराने के लिए बड़ा कदम उठाया है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंंत्री अनिल विज ने दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के मोहल्‍ला क्लिनिक की टक्‍कर मेंं हरियाणा में मोबाइल अस्‍पताल शुरू किया है।

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री के चर्चित मोहल्‍ला क्लिनिक के जवाब में लोगों को बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं उपलब्‍ध कराने के लिए बड़ा कदम उठाया है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री अनिल विज ने  दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार के मोहल्ला क्लीनिक की टक्कर में हरियाणा में ‘मिनी अस्पताल आन व्हील’ उतारे हैं। राज्य के सभी 22 जिलों को इन चलते-फिरते अस्पतालों के रूप में जल्द ही राष्ट्रीय मोबाइल मेडिकल यूनिट मिलने जा रही हैं। इस यूनिट में मरीज को दाखिल करने के साथ-साथ ओपीडी की सुविधा होगी। इस मोबाइल अस्पताल में सभी संसाधनों से युक्त प्रयोगशाला, आक्सीजन और टेस्टिंग की सुविधाएं भी रहेंगी।

हरियाणा के सभी 22 जिलों में भेजी जाएंगी दो-दो ‘मिनी अस्पताल आन व्हील’ मोबाइल यूनिट

यह मोबाइल यूनिट प्रदेश के गांव-गांव व शहरों के मोहल्ला-मोहल्ला में निर्धारित समयावधि में जाएंगी और लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाएंगी। हरियाणा के गृह, स्वास्थ्य, आयुष व चिकित्सा शिक्षा मंत्री अनिल विज ने इसे स्वास्थ्य सुविधाओं में बढ़ोतरी के लिहाज से बेहतरीन व मजबूत प्रयास बताया है। उन्होंने कहा कि राज्य में कुल 47 मोबाइल यूनिट काम करेंगी, जिसके तहत प्रत्येक जिले में दो-दो मोबाइल यूनिट भेजी जानी हैं।

मोबाइल यूनिट गांव और शहरों में देंगी सेवाएं, इसमें हर तरह की जरूरी सुविधाएं उपलब्ध

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने चंडीगढ़ में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की और मोबाइल मेडिकल यूनिट की कार्यप्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की। अनिल विज ने हरियाणा सिविल मेडिकल सर्विस एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ भी बैठक की। पूर्व में मंत्री के साथ हुई बैठक में समझौता लागू नहीं करने का आरोप लगाते हुए एसोसिएशन ने 11 जनवरी से हड़ताल पर जाने का ऐलान कर रखा था। विज ने अधिकारियों को आदेश दिए कि सभी मानी गई मांगों को लागू किया जाए। इस संबंध में वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद के साथ 10 जनवरी को बैठक होगी।

बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि मोबाइल यूनिट में कंटेनर जांच स्थान, टीकाकरण स्थान, फार्मासिस्ट और प्रयोगशाला की व्यवस्था रहेगी। इस यूनिट में चालक और अन्य कर्मियों के बीच बातचीत के लिए इंटरकाम की सुविधा भी रहेगी। यूनिट में कुछ चीजों को फोल्ड करके रखा गया है। उन्हें जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल किया जाएगा। यूनिट में जेनरेटर की सुविधा, एलइडी टीवी, मेडिकल उपकरण आपातकालीन किट, नेबुलाइजर और स्ट्रेचर की सुविधा है। यूनिट में वीडियो कैमरा और जीपीएस सिस्टम भी है।

दूसरी जीनोम सिक्वेसिंग मशीन पंचकूला में स्थापित होगी

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अधिकारियों को राज्य में एक ओर जीनोम सिक्वेसिंग मशीन स्थापित करने की प्रक्रिया आरंभ करने के निर्देश दिए। इस मशीन से कोरोना के संक्रमण की जीनोम की जांच हो सकेगी।अभी यह मशीन पंचकूला में स्थापित करने का प्रस्ताव है। पहली मशीन रोहतक में है।

इसके साथ ही उन्होंने कोविड की टेस्टिंग बढ़ाने को भी कहा। उन्होंने अधिकारियों को कोरोना से निपटने के लिए सभी अस्पतालों में वांछित उपकरणों के पूरा करने के निर्देश दिए और कहा कि वह कभी भी किसी भी अस्पताल में दौरा कर सकते हैं। बैठक में स्वास्थ्य सचिव राजीव अरोड़ा और स्वास्थ्य महानिदेशक डा. वीणा सिंह शामिल हुए।