एक इनोवा ने बरेली में मचाया हड़कंप, गाड़ी से शख्स के उतरते ही उसके जानने वाले हो गए गायब, जानें कौन था शख्स

 

बेहरा गांव ले जाकर की गई जांच पड़ताल, कई लोगों से की पूछताछ।

 इनामी स्मैक तस्कर तैमूर उर्फ भोला को शुक्रवार को दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम बरेली लेकर पहुंची। टीम सीधे फरीदपुर स्थित तस्कर के गांव बेहरा पहुंची। वहां तस्कर की निशानदेही पर कई साक्ष्य एकत्र किये। साथ ही कई लोगों से पूछताछ भी की।

बरेली: इनामी स्मैक तस्कर तैमूर उर्फ भोला को शुक्रवार को दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम बरेली लेकर पहुंची। टीम सीधे फरीदपुर स्थित तस्कर के गांव बेहरा पहुंची। वहां तस्कर की निशानदेही पर कई साक्ष्य एकत्र किये। साथ ही कई लोगों से पूछताछ भी की। इनोवा गाड़ी से सुबह-सुबह ही तस्कर को लेकर पहुंची टीम को देखकर गांव में भी खलबली मच गई। तस्कर के घर वाले गायब रहे।

पढेरा का शहीद खां उर्फ छोटे के पकड़े जाने के बाद इनामी तस्कर तैमूर उर्फ भोला पर भी शिकंजा कसता गया। शहीद खां तैमूर का फूफा निकला, लिहाजा उसकी भी तलाश शुरू हो गई। पुलिस द्वारा तलाशे जाने की जानकारी होने पर तस्कर ने दिल्ली में सरेंडर कर दिया। उसे टीम ने रिमांड पर लेकर लंबी पूछताछ की। उसके नेटवर्क को खंगाला। इधर, बरेली पुलिस ने भी तस्कर के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी। गैंगस्टर की कार्रवाई के साथ तस्कर की संपत्ति चिह्नित की गई।

गैंगस्टर के तहत डीएम ने जहां तस्कर तैमूर की 13.5 करोड़ की संपत्ति सीज कर दी वहीं कोर्ट ने शहीद खां की 50.99 करोड़ की संपत्ति सीज कर दी। एक बार फिर दिल्ली क्राइम ब्रांच ने उसे तीन दिन की रिमांड पर लिया। दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम के अनुसार शनिवार को भोला की रिमांड समाप्त हो जाएगी।

पुलिस ने तस्कर की निशानदेही पर कई और उसके स्मैक तस्कर साथियों को निशाने पर लिया है। दिल्ली पुलिस की गाड़ी में पिछली सीट पर बैठा तस्कर तैमूर काफी सहमा हुआ नजर आ रहा था। पुलिस टीम गाड़ी में ही सीट पर बैठा कर उससे लगातार पूछताछ कर रही थी। फरीदपुर पहुंचने पर तस्कर का मेडिकल भी कराया गया जिसमें वह स्वस्थ पाया गया।