आदर्श नगर इलाके में मंडी कारोबारी को लूटा, तीन आरोपित दबोचे

 

पीड़ित ने पुलिस को बताया कि उनका आजादपुर सब्जी मंडी में कारोबार है।

आदर्श नगर इलाके में बदमाशों ने आजादपुर मंडी के कारोबारी को लूटकर भाग गए। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया व जांच के क्रम में पुलिस ने 24 घंटे में दो नाबालिग समेत तीन बदमाशों का दबोच लिया।

नई दिल्ली, संवाददाता। आदर्श नगर इलाके में बदमाशों ने आजादपुर मंडी के कारोबारी को लूटकर भाग गए। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया व जांच के क्रम में पुलिस ने 24 घंटे में दो नाबालिग समेत तीन बदमाशों का दबोच लिया। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि उनका आजादपुर सब्जी मंडी में कारोबार है।

11 जनवरी की रात की 11 बजे आदर्श नगर मेट्रो स्टेशन से आजादपुर मंडी स्थित अपने आफिस जा रहे थे। वह जैसे ही मंडी गेट के सामने मेट्रो पिलर नंबर 88 के नजदीक पहुंचे, तभी अचानक तीन लड़के पहुंचे। उनमें से एक लड़के ने उनके गले को पीछे से चाक कर दिया व उनसे 25 हजार और मोबाइल फोन छीन कर भाग गए।

उत्तर पश्चिम जिले की डीसीपी उषा रंगनानी ने बताया कि इस बाबत एसएचओ शैलेंद्र सिंह के नेतृत्व में एसआइ कुलदीप, हेड कांस्टेबल जयभगवान, कांस्टेबल मुकेश की टीम बनाई गई। टीम ने मौके पर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। जिसके आधार पर यह पता चला आरोपित आजादपुर की तरफ से तरफ से आए हैं। ऐसे में मुखबिरों को सक्रिय किया गया। इसके बाद दो नाबालिग समेत तीन आरोपितों को दबोच लिया गया।

दोनों नाबालिग आपस में भाई हैं। जबकि तीसरे की पहचान नसीम के रूप में हुई। 19 वर्षीय नसीम भड़ौला गांव का रहने वाला है। वहीं, सुभाष प्लेस थाना पुलिस ने 24 घंटे में लूटपाट की वारदात की गुत्थी को सुलझाते हुए दो बदमाशों को गिरफ्तार किया। बदमाशों की पहचान शकूरपुर जेजे कालोनी के विवेक, साहिल व निप्रा के रूप में हुई है। 13 जनवरी को पीड़ित जितेंद्र कुमार ने सुभाष पुलिस थाने में शिकायत दी कि संदेश विहार के पास दो लड़कों ने गला दबाकर मोबाइल फोन छीन लिया था।

ऐसे में इंस्पेक्टर प्रताप सिंह के नेतृत्व में एसआइ विजेंदर, एएसआइ जो¨गदर, हेड कांस्टेबल मोहम्मद अजहर, सुरेश कुमार, कांस्टेबल सोहनलाल आदि की टीम गठित की गई। टीम ने जांच शुरू की तो पता चला कि इस मामले में शकूरपुर जेजे कालोनी के बदमाश शामिल हैं। टीम को यह भी पता चला कि बदमाश अभी संदेश विहार पार्क के निकट मौजूद हैं। ऐसे में पुलिस टीम ने छापेमारी कर विवेक व साहिल को पकड़ा। फिर निप्रा को मोबाइल फोन सहित दबोच लिया।