सीएम जगन रेड्डी ने आंध्र प्रदेश में लगाया नाइट कर्फ्यू, जानें किन चीजों पर होंगी पाबंदियां

 

सीएम जगन रेड्डी ने आंध्र प्रदेश में लगाया नाइट कर्फ्यू

आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी।

अमरावती, एएनआइ। देश में एक बार फिर से कोरोना का भारी प्रकोप जारी है। इसी बीच केंद्र व राज्य सरकार की ओर से तमाम तरह की पाबंदियां लागू की जा रही हैं। वहीं, अब आंध्र प्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू की घोषणा की है। इसके चलते रात 11 बजे के बाद और सुबह पांच बजे से पहले लोगों को अपने घरों से बाहर निकलने पर रोक रहेगी। राज्य में कोरोना की स्थिति पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री जगन रेड्डी की ओर से आयोजित समीक्षा बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया।

तमाम चीजों पर लागू पाबंदियां

इसके साथ ही आंध्र प्रदेश में थिएटर, मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हाल 50 प्रतिशत या एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था के साथ काम करेंगे। इसके साथ ही राज्य में सभी तरह के सार्वजनिक समारोहों पर भी प्रतिबंध लागू किए गए हैं। खुले स्थान पर आयोजित समारोहों में 200 लोगों और हाल में आयोजित समारोह में सिर्फ 100 लोगों को ही भाग लेने की अनुमति रहेगी। वहीं, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य है। नियमों का उल्लंघन करने वालों पर 100 रुपये का जुर्माना भी लगाया जाएगा। दूसरी ओर राज्य के सभी धार्मिक स्थानों पर कोरोना की सभी गाइडलाइंस का पालन करना अनिवार्य रहेगा। धार्मिक स्थानों के परिसर के अंदर मास्क लगाना भी अनिवार्य होगा। कोरोना की रोकथाम के लिए तत्काल टेस्ट के तौर पर रैपिड एंटीजन टेस्ट (आरएटी) भी किए जाएंगे। प्रत्येक खंड में एक कोविड-19 देखभाल केंद्र भी स्थापित किया जाएगा।

अधिकतर राज्यों में कड़े प्रतिबंध लागू

गौरतलब हो कि देश में कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए एक बार फिर से अधितकर राज्यों में कोरोना और खासतौर पर ओमिक्रोन की रोकथाम के लिए तमाम तरह की पाबंदियां लागू की गई हैं। अधिकतर राज्यों में नाइट कर्फ्यू के साथ-साथ कई तरह के नियम लागू किए गए हैं। राज्य सरकारों की ओर से राज्यों में स्कूल-कालेज को बंद, वर्क स्पेस को आधा, पब्लिक ट्रांसपोर्ट में यात्रियों की संख्या कम करने जैसे कई कदम उठाए गए हैं। सभी राज्यों में प्रदेश सरकार की ओर से अलग अलग तरह की गाइडलाइंस जारी की गई है। वहीं, चेन्नई में रविवार को पूरी तरह से लाकडाउन लगाया गया था। इसके साथ ही दिल्ली में हफ्ते के अंत यानि शनिवार व रविवार को लाकडाउन रहेगा।