लुधियाना में शिअद को बड़ा झटका, यूथ अकाली दल के जिला प्रधान गुरदीप गोशा इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल

 

शिरोमणि अकाली दल को लुधियाना में बड़ा झटका लगा है।

शिरोमणि अकाली दल को लुधियाना में बड़ा झटका लगा है। जिला यूथ प्रधान और शिरोमणि अकाली दल के जुझारू नेता गुरदीप गोशा ने आखिरकार पार्टी का साथ छोड़ दिया। लंबे समय से कयास लगाए जा रहे थे कि गोशा टिकट न मिलने से मायूस थे।

 संवाददाता, लुधियाना। शिरोमणि अकाली दल को लुधियाना में बड़ा झटका लगा है। जिला यूथ प्रधान और शिरोमणि अकाली दल के जुझारू नेता गुरदीप गोशा ने आखिरकार पार्टी का साथ छोड़ दिया। लंबे समय से कयास लगाए जा रहे थे कि गोशा टिकट नहीं मिलने से मायूस थे और वह किसी भी समय भाजपा में शामिल हो सकते हैं। मंगलवार को उन्होंने फेसबुक पर इस्तीफे की जानकारी देते हुए लिखा, ‘मैं शिरोमणि अकाली दल के सभी पदों से इस्तीफा दे रहा हूं। मैं तन, मन और धन से पार्टी और लोगों की सेवा करता रहा। किन्हीं कारणों से मैं अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं। कारणों का आने वाले समय में खुलासा करूंगा। समाज के प्रति अपनी सेवाएं जारी रखूंगा।’ साथ ही उन्होंने भाजपा ज्वाइन करने की क्लिपिंग भी डाली है।गोशा ने दिल्ली में भाजपा के शीर्ष नेताओं के समक्ष पार्टी ज्वाइन की। खास बात यह है कि ज्वाइन करने से चंद सेकेंड पहले गोशा ने इंटरनेट मीडिया पर पार्टी छोड़ने की बात कही। इससे शिअद के नेताओं को कुछ एक्शन का भी मौका नहीं मिला। दिल्ली में उनके साथ पंजाब के कुछ अन्य नेताओं ने भी भाजपा ज्वाइन की, जिसमें अमृतसर के सरीन भी शामिल हैं। गाैरतलब है कि इस साल हाेने जा रहे विधानसभा चुनावाें काे लेकर लुधियाना जिले में मुकाबला राेचक हाेने के आसार हैं। गाेशा के भाजपा में शामिल हाेने से शिरोमणि अकाली दल को बड़ा नुकसान होगा, क्योंकि लुधियाना में पार्टी के सभी मोर्चों में वह मुख्य भूमिका अदा करते थे। लुधियाना पश्चिम से उम्मीदवार महेश इंदर सिंह ग्रेवाल की चुनाव मुहिम में वह बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे थे। उनके जाने से उनकी चुनाव मुहिम को भी झटका लगा है। ज्वाइनिंग के समय केंद्रीय जल शक्ति मंत्री एवं पंजाब भाजपा चुनाव कमेटी के अध्यक्ष गजेंद्र शेखावत और पंजाब प्रभारी दुष्यंत गौतम भी मौजूद थे