इस राज्‍य की यात्रा करने वाले यात्रियों को करानी होगी आरटी-पीसीआर जांच, दक्षिण पश्चिम रेलवे ने जारी नए दिशा-निर्देश

ट्रेन से गोवा - कर्नाटक की यात्रा करने वाले लोगों को लिए दिशानिर्देश जारी। (फाइल फोटो)

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच रेल से गोवा से कर्नाटक की यात्रा करने वाले लोगों को लिए दक्षिण पश्चिम रेलवे ने दिशानिर्देश जारी किया है। इसके अनुसार यात्रियों को यात्रा से पहले कोरोना की आरटी-पीसीआर टेस्ट करानी होगी।

बेंगलुरु, एएनआइ। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच रेल से गोवा से कर्नाटक की यात्रा करने वाले लोगों को लिए दक्षिण पश्चिम रेलवे ने दिशानिर्देश जारी किया है। इसके अनुसार यात्रियों को यात्रा से पहले कोरोना की आरटी-पीसीआर टेस्ट करानी होगी। रिपोर्ट नेगेटिव आने पर यात्री की अनुमति होगी। यात्रा शुरू होने से 72 घंटे से पहले की रिपोर्ट मान्य नहीं होगा। यह नियम टीकाकरण करा चुके लोगों के लिए भी मान्य है। दक्षिण पश्चिम रेलवे ने इसके अलावा जानकारी दी है कि विभिन्न कारणों से गोवा से कर्नाटक जाने वाले छात्रों और जनता के लिए 15 दिनों में एक बार आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना और इसका नेगेटिव रिपोर्ट रखना अनिवार्य है। 

बता दें कि कर्नाटक में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 8449 नए मामले सामने आए हैं। 505 मरीज ठीक हुए हैं और चार लोगों की मौत हुई है। राज्य में सक्रिय मामले 30,113 हैं। वहीं गोवा की बात करें तो स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि यहां शुक्रवार को कोरोना के 1,432 नए मामले सामने आए। इस दौरान दो लोगों की मौत हुई। कुल अबतक 1,86,198 मामले सामने आ गए हैं। मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,530 हो गई। एक्टिव केस 5931 है।

इस बीच कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को सार्वजनिक स्थानों जैसे माल, बाजारों और रेस्तरां में प्रवेश के लिए कोरोना वैक्सीन की प्रमाणपत्र को अनिवार्य कर दिया। मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डा के सुधाकर ने कहा कि टीकाकरण का प्रमाण यूनिवर्सल पास के तौर पर काम करेगा। इसका सख्ती से पालन होगा। बाजार, माल, पब, बार, रेस्तरां आदि सहित किसी भी सार्वजनिक स्थान पर इसके बगैर आने की अनुमति नहीं होगी। सुधाकर ने आगे कहा कि अन्य राज्यों के यात्रियों का परीक्षण किया जाएगा और राज्य में कोविड केयर सेंटर स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि पूर्ण लाकडाउन सरकार के लिए विचार का विषय नहीं है।