विधानसभा चुनाव को लेकर जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट को दिया गया प्रशिक्षण

 

विधानसभा चुनाव को लेकर जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट को दिया गया प्रशिक्षण।

 विधानसभा चुनाव को सुव्यवस्थित ढंग से संपन्न कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी डा. आर राजेश कुमार के निर्देशन व नोडल अधिकारी प्रशिक्षण अपर जिलाधिकारी केके मिश्र की देखरेख में जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट को प्रशिक्षण दिया गया।

संवाददाता, देहरादून। विधानसभा चुनाव को सुव्यवस्थित ढंग से संपन्न कराने के लिए कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया जाने लगा है। इस क्रम में सोमवार को जिला निर्वाचन अधिकारी डा. आर राजेश कुमार के निर्देशन व नोडल अधिकारी प्रशिक्षण अपर जिलाधिकारी केके मिश्र की देखरेख में जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट को प्रशिक्षण दिया गया।

ओएनजीसी आडिटोरियम में आयोजित प्रशिक्षण में जिला पंचायतीराज अधिकारी एम मुस्तफा खान एवं सेवायोजन अधिकारी प्रवीन गोस्वामी ने जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट को उनके दायित्वों के बारे में बारिकी से जानकारी दी। साथ ही निर्वाचन के सभी पहलुओं के बारे में बताया। वहीं, प्रशिक्षण के दौरान नोडल अधिकारी प्रशिक्षण/अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केके मिश्र ने कहा कि निर्वाचन ड्यूटी बहुत ही महत्वपूर्ण ड्यूटी होती है, जिसमें सभी कार्मिकों को अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुए शत-प्रतिशत योगदान देना होता है। निर्वाचन कार्यों में किसी प्रकार की गलतियां/भूल क्षम्य नहीं होती है।

इसलिए सभी कार्मिक प्रशिक्षण के दौरान निर्वाचन कार्य में अपनी-अपनी भूमिका व दायित्वों को भली-भांति समझ लें। यदि किसी प्रकार की कोई शंका हो तो उसका पूर्व में ही निराकरण कर लें। ताकि किसी भी प्रकार की कोई चूक न होने पाए। उन्होंने कहा कि जो कार्मिक प्रशिक्षण में अनुपस्थित पाए जाएंगे, उनके विरुद्ध भारत निर्वाचन आयोग की निर्धारित प्राविधानों के अनुरूप कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

लेखा टीम व व्यय प्रेक्षकों को बताई जिम्मेदारी

सोमवार को लेखा टीम व सहायक व्यय प्रेक्षकों को भी प्रशिक्षण दिया गया। मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चौधरी ने कार्मिकों को बताया कि उन्हें किस तरह पार्टियों व प्रत्यशियों के खर्च का ब्यौरा रखना है। इस अवसर पर वित्त नियंत्रक सुनील कुमार रतूड़ी, उप कोषाधिकारी राजीव गुप्ता, लेखाकार भरत सिंह, राजेश्वर आदि उपस्थित थे।