कोरोना नियमों का उल्लंघन कर रही भारतीय एयरलाइंस कंपनियां, जानें सिंगापुर ने क्यों व्यक्त की चिंता

 

कोरोना नियमों का उल्लंघन कर रही भारतीय एयरलाइंस कंपनियां

सिंगापुर ने भारतीय एयरलाइंस पर कोविड-19 के लिए बनाए गए प्रोटोकाल का उल्लंघन करने के तहत गहरी चिंता व्यक्त की है। सिंगापुर इंमिग्रेशन अथारिटी की शिकायत के बाद डीजीसीए ने सिंगापुर को एयरलाइंस कंपनी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

नई दिल्ली, एएनआइ। सिंगापुर के इंमिग्रेशन विभाग ने भारतीय एयरलाइंस पर कोविड-19 के लिए बनाए गए प्रोटोकाल का उल्लंघन करने के तहत गहरी चिंता व्यक्त की है। दरअसल सिंगापुर का कहना है कि भारतीय एयरलाइंस कंपनियां कोरोना के नियमों को पूरा किए बिना ही चालक दल को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर भेज रही हैं।कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बनाए गए नियमों के तहत 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रखे बिना ही कंपनियां चालक दल को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए भेज रही हैं।

डीजीसीए ने कंपनी पर कड़ी कार्रवाई का दिया आश्वासन

वरिष्ठ अधिकारी ने एएनआई को बताया कि हाल ही में सिंगापुर के इंमिग्रेशन प्राधिकरण ने भारत से चिंता व्यक्त की है। प्राधिकरण का कहना है कि भारतीय एयरलाइंस ने राजनयिक चैनलों के साथ-साथ नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) के माध्यम से कोविड​​​​-19 क्वारंटाइन नियमों का उल्लंघन किया है। डीजीसीए के एक शीर्ष अधिकारी ने एएनआई को बताया सिंगापुर इंमिग्रेशन अथारिटी की शिकायत के बाद डीजीसीए ने सिंगापुर को एयरलाइंस कंपनी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। विमानन नियामक के अधिकारियों के अनुसार एयरलाइंस के एक पुरुष चालक दल का व्यक्ति 31 दिसंबर को कोरोना पाजिटिव पाया गया था। कंपनी ने इस सप्ताह अंतरराष्ट्रीय (सिंगापुर) उड़ान के लिए कोरोना पाजिटिव व्यक्ति की ड्यूटी निर्धारित कर दी। ड्यूटी रोस्टर के अनुसार 9 जनवरी को व्यक्ति अपनी ड्यूटी पर भी पहुंच गया।

कोरोना नियमों का उल्लंघन करने हेतु गिरफ्तार व्यक्ति

डीजीसीए के एक अधिकारी ने एएनआई को बताया चांगी हवाई अड्डे पर इंमिग्रेशन मंजूरी के दौरान इंमिग्रेशन प्राधिकरण ने एक चालक दल के सदस्य को कोरोना के नियमों का उल्लंघन करने के लिए हिरासत में लिया। इसके बाद भारत के संबंधित विभाग में मामले की रिपोर्ट दी गई और मामले की जांच की जा रही है। आपको बता दें कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति को सिंगापुर की यात्रा करने के लिए 14 दिन के होम क्वारंटाइन में रहने के साथ-साथ निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट साथ लाना आवश्यक है।