मोहल्ला क्लीनिक में लोगों के जीवन से हो रहा खिलवाड़ः आदेश गुप्ता

 

उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के इस्तीफे की मांग की।

प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक में गलत दवा देने से पिछले माह तीन बच्चों की मौत हो गई थी। अब एक बार फिर से गलत दवा से दिए जाने से एक बच्चा गंभीर रूप से बीमार हो गया है।

नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। भाजपा ने मोहल्ला क्लीनिक में मरीजों के जीवन से खिलवाड़ किए जाने का आरोप लगाया है। प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक में गलत दवा देने से पिछले माह तीन बच्चों की मौत हो गई थी। अब एक बार फिर से गलत दवा से दिए जाने से एक बच्चा गंभीर रूप से बीमार हो गया है। इस तरह की लापरवाही की न्यायिक जांच होनी चाहिए। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के इस्तीफे की मांग की।

प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि दिल्ली में पिछले सात सालों में 57 हज़ार करोड़ रुपये सिर्फ स्वास्थ्य क्षेत्र में खर्च हुए हैं। 15 सौ करोड़ रुपये मोहल्ला क्लीनिक पर खर्च किए गए हैं लेकिन आज उसकी हालात बिल्कुल जर्जर हो चुकी है। अगर इन पैसों का इस्तेमाल अस्पतालों को बेहतर करने पर लगाया जाता तो आज दिल्ली में स्वास्थ्य सुविधाओं की अलग तस्वीर होती। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के स्वास्थ्य महानिदेशक (डीजीएचएस) ने सात दिसंबर को पत्र लिखकर चार साल से कम उम्र के बच्चों को डिस्ट्रोमेथोर्फन सिरप नहीं दने को कहा था। बावजूद इसके मोहल्ला क्लीनिक में बच्चों को यह दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक सिर्फ प्रचार का जरिया बन हया है। जरूरत बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की है। इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। अयोग्य डाक्टर, बुनियादी सुविधाओं का अभाव और खराब हो गई दवाइयों से मरीजों के जीवन को जोखिम में डाला जा रहा है।

उन्होंने कहा कि पिछले माह तीन बच्चों की मौत के मामले में कुछ डाक्टरों के खिलाफ कार्रवाई कर सरकार इस मामले को दबाना चाहती है। जरूरत इस पूरे मामले की न्यायिक जांच की है। स्वास्थ्य मंत्री को इसकी जिम्मेदारी लेते हुए अपना पद छोड़ना चाहिए।