क्यों और कहां बोले अरविंद केजरीवाल, दिल्ली में रहते होंगे आपके रिश्तेदार; जरा उनसे पूछिए...

 

जानिए क्यों और कहां बोले अरविंद केजरीवाल, दिल्ली में रहते होंगे आपके रिश्तेदार।

उत्तराखंड दौरे पर आए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आपके रिश्तेदार होंगे जरा उनसे वहां के बारे में पूछिए। पहले दिल्ली में बिजली आठ-दस घंटे कटती थी लेकिन अब 24 घंटे मिलती है।

 संवाददाता, देहरादून। देवभूमि उत्तराखंड के परेड ग्राउंड (देहरादून) से हुंकार भर रहे अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आपके रिश्तेदार होंगे, जरा उनसे वहां के बारे में पूछिए। पहले दिल्ली में बिजली आठ-दस घंटे कटती थी, लेकिन अब 24 घंटे मिलती है। उन्होंन तंज भरे लहजे में कहा, सुना है उत्तराखंड में भी बिजली कट होती है। आगे बोले, आप को एक मौका देकर देखिये 24 घंटे बिजली मिलेगी। उन्होंने जनता से कहा कि अगर आपको 24 घंटे बिजली चाहिए तो आप को वोट दें। अगर पावर कट चाहिए तो भाजपा और कांग्रेस को वोट दें।

उत्तराखंड दौरे पर पहुंचे केजरीवाल ने मंच से दिल्ली के बिजली के जीरो बिल भी दिखाए। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में फ्री और 24 घंटे बिजली सिर्फ आम आदमी पार्टी ही दे सकती है। आप को वोट दीजिए हम फ्री बिजली बिल देंगे। उन्होंने फ्री-फ्री पर कटाक्ष करने की बात को भी निशाने पर लिया। कहा, मुख्यमंत्री धामी को पांच हजार यूनिट फ्री बिजली मिलती है। मंत्रियों को चार हजार यूनिट मुफ्त मिलती है। अगर मैंने अपनी जनता को 300 यूनिट फ्री दे दूं तो क्या गुनाह है। कहा कि यह फ्री बिजली का फार्मूला सिर्फ भगवान ने मुझे दिया है। यह सिर्फ मैं ही कर सकता हूं।

उत्तराखंड में भी देंगे नौकरियां

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में दस लाख लोगों को नौकरी दी है। हम उत्तराखंड में भी देंगे। मैं जो भी बोलता हूं सोच समझ कर बोलता हूं। दस मार्च को चुनाव के परिणाम आएंगे। हम 11 मार्च को नौकरी नहीं दे सकते, लेकिन जब तक नौकरी नहीं तब तक पांच हजार रुपये बेरोजगारी भत्ता देंगे।

अयोध्या दर्शन को उत्तराखंड में भी भेजेंगे ट्रेनें

केजरीवाल ने कहा कि एक बार मे अयोध्या गया था तब मैंने यही मांग की थी कि प्रभु मुझे इतना देना कि मैं देश के सभी नागरिकों को अयोध्या के दर्शन करवा सकू। दिल्ली से मैंने दो ट्रेनें अयोध्या के लिए भेजी है। उत्तराखंड में हमारी सरकार बनती है तो हम यहां भी भेजेंगे।

मुझे और कोठियाल को नहीं आती राजनीति करनी

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि न मुझे राजनीती आती है और न ही कर्नल कोठियाल को। मैंने दिल्ली सुधारी और कर्नल कोठियाल ने केदारनाथ। उन्होंने कहा कि आपने दस-दस साल भाजपा और कांग्रेस को मौका दिया। अब एक मौका आम आदमी पार्टी को भी दे दीजिए। हम इतने बुरे नहीं हैं।