अभिनेता सोनू सूद की बहन माेगा से हाे सकती है कांग्रेस प्रत्याशी, सीएम चन्नी आज करेंगे पार्टी में औपचारिक रूप से शामिल

 

फिल्म अभिनेता सोनू सूद व बहन मालविका सूद। (फाइल फाेटाे)

 मोगा विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के लिए अभिनेता साेनू सूद की बहन की दावेदारी मजबूत हाे रही है। पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी मालविका काे साेमवार काे पार्टी में औपचारिक ताैर पर शामिल करेंगे।

मोगा।   फिल्म अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद के कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के बाद शहरी विधानसभा सीट से उन्हें प्रत्याशी बनाए जाने की संभावना भी बढ़ गई है। अगर ऐसा होता है तो मोगा विधानसभा क्षेत्र की राजनीति का पूरा परिदृश्य ही बदल जाएगा। अब तक इस सीट के दावेदार विधायक डा. हरजोत कमल ही हैं, अगर उन्हें टिकट नहीं मिलती है, तब डा. हरजोत कमल का अगला कदम काफी महत्वपूर्ण होगा।

मोगा विधानसभा सीट से कांग्रेस के सबसे मजबूत दावेदार विधायक डा. हरजोत कमल ही माने जा रहे थे। हालांकि इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन विनोद बंसल, इंटक के जिलाध्यक्ष विजय धीर एडवोकेट, युवा नेता मंजीत मान भी दावेदारी में शामिल थे। एक दिन पहले ही मालविका सूद के कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा के बाद अब इस बात की संभावना ज्यादा बढ़ गई है कि मोगा शहर सीट से उन्हें प्रत्याशी बनाया जा सकता है। इसकी बड़ी वजह ये भी है कि मालविका को औपचारिक रूप से पार्टी में शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी 10 जनवरी को मोगा पहुंच रहे हैं। मालविका को कांग्रेस की सदस्यता देने का फैसला दिल्ली से हुआ था, यही वजह थी कि पार्टी के स्थानीय नेतृत्व को इसकी भनक तक नहीं लगी।

विरोधी निगम चुनाव में हुए थे चित

विधायक डा.हरजोत कमल के धुर विरोधी जो अब तक पार्टी में उनके बढ़ते कद को नगर निगम चुनाव ही नहीं पंचायत चुनाव में भी रोक पाने में विफल रहे थे, उन्हें मालविका के रूप में मौका मिला तो वे एकजुट होकर मालविका के खेमे में जा पहुंचे। हालांकि हरजोत को चित करना विरोधियों के लिए आसान नहीं होगा, क्योंकि हरजोत ने पार्टी में अपनी युवा टीम खड़ी की है, जिसकी जड़ें पिछले पांच साल में काफी मजबूत हुई हैं, जबकि विरोधियों के पास अपनी कोई मजबूत टीम नहीं है।

आप ने भी महिला प्रत्याशी को उतारा चुनाव मैदान में

जहां तक आम आदमी पार्टी का सवाल है तो वह मालविका के कदम का इंतजार कर रही थी। मालविका के कांग्रेस में जाने के बाद उनके मुकाबले में पार्टी ने महिला प्रत्याशी को ही अहमियत दी है। नवदीप सिंह संघा सबसे मजबूत दावेदार थे, लेकिन मालविका के कदम के बाद पार्टी ने डा.अमनदीप अरोड़ा को पार्टी प्रत्याशी बनाया है। अकाली दल पहले ही बरजिंदर सिंह बराड़ को प्रत्याशी घोषित किया जा चुका ह

ै।