पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक केस में सुप्रीम कोर्ट की पूर्व जज इंदू मल्होत्रा के नेतृत्व में समिति करेगी जांच

 

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीकी सुरक्षा के चूक (फाइल फोटो)

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा के चूक के मामले में सुप्रीम कोर्ट रिटायर्ड जस्टिस इंदू मल्होत्रा की अध्यक्षता में 4 सदस्यीय समिति नियुक्त की। सुप्रीम कोर्ट ने 10 जनवरी को मामले में फैसला सुरक्षित रखा था।

 नई दिल्ली, एजेंसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने कमेटी के गठन का ऐलान कर दिया है। पंजाब में हुई सुरक्षा में चूक की जांच चार सदस्यों की कमेटी करेगी। इसकी अगुआई जस्टिस इंदु मल्होत्रा करेंगी। इसके साथ सुप्रीम कोर्ट ने सभी मौजूदा जांच कमेटियों पर रोक भी लगा दी है। बता दें कि पंजाब सरकार और गृह मंत्रालय दोनों ने मामले की जांच के लिए अपनी-अपनी कमेटी बनाई थी, दोनों ने ही एक-दूसरे की जांच पर भरोसा नहीं होने की बात कही थी।

सुप्रीम कोर्ट ने अभी अपने आदेश में समय सीमा तय नहीं की है। कोर्ट ने कहा है कि समिति जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट देगी। कमेटी ये अध्ययन करेगी कि सुरक्षा में चूक का मूल कारण क्या था? सुरक्षा को और अभेद्य बनाने के लिए और कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 10 जनवरी को मामले में फैसला सुरक्षित रखा था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि पीएम की सुरक्षा में चूक की हाई लेवल जांच होगी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि पीएम की सुरक्षा खामियों की जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज द्वारा कराई जाएगी।

बता दें, 5 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काफिला उस समय फ्लाईओवर पर 15-20 मिनट के लिए फंसा रह गया था, जब वे फिरोजपुर जा रहे थे और रास्ते में प्रदर्शनकारियों ने उनका रास्ता रोक लिया था। 15-20 मिनट इंतजार करने के बावजूद जब स्थिति नहीं सुधरी तो पीएम मोदी के काफिले को वापस लौटना पड़ा था।