दिल्ली के भारत नगर इलाके में बिस्तर पर पड़े लकवाग्रस्त बेटे को पिता ने मार डाला

 

बिस्तर पर पड़े लकवाग्रस्त बेटे को पिता ने मार डाला

भारत नगर इलाके में लकवा ग्रस्त होने के कारण 14 साल से बिस्तर पर पड़े युवक को उसी के पिता ने डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपित पिता मौके से फरार हो गया। लेकिन वारदात की जानकारी मिलते ही पुलिस ने आरोपित को दबोच लिया।

नई दिल्ली, संवाददाता। भारत नगर इलाके में लकवा ग्रस्त होने के कारण 14 साल से बिस्तर पर पड़े युवक को उसी के पिता ने डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपित पिता मौके से फरार हो गया। लेकिन वारदात की जानकारी मिलते ही पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपित को इलाके से ही दबोच लिया। वह नशे का आदी है। 30 वर्षीय परमजीत सिंह वजीरपुर जेजे कालोनी में परिवार के साथ रहता था। परिवार में पिता 65 वर्षीय अजमेर सिंह, मां और बहन रेखा है। उत्तर पश्चिम जिले के डीसीपी उषा रंगनानी ने बताया कि रविवार दोपहर एक बजकर 24 मिनट पर भारत नगर थाने को अशोक विहार के दीपचंद बंधु अस्पताल से अचेत हालत में युवक को लाए जाने की जानकारी मिली। जिसे मृत घोषित कर दिया गया था। मृतक की पहचान परमजीत सिंह के रूप में हुई। वह रेलगाडी से गिरने के बाद से लकवाग्रस्त हो गया था।
सूचना के बाद पुलिस अस्पताल पहुंची तो वहां मृतक युवक की बहन रेखा मिली। रेखा ने पुलिस को जानकारी दी कि उसका भाई परमजीत 14 सालों से लकवाग्रस्त था और बिस्तर पर पड़ा रहता था। शनिवार की रात वह मां के साथ पड़ोस में रहने वाली बहन के घर सोने चली गई थी। सुबह जब घर आई तो भाई ने बताया कि रात में उसके पिता शराब के नशे में घर आए थे और उसे डंडों से पीटा था।
दो घंटे तक रिक्शा वाला भी नहीं मिला
परमजीत की तबियत जब ज्यादा बिगड़ गई तो रेखा अपने भाई को अस्पताल ले जाने के लिए नीचे रिक्शा लेने गई थी। लेकिन वीकेंड कफ्यरू के कारण उसे दो घंटे तक रिक्शा ही नहीं मिला। इसके बाद जब तक उसे दीपचंद बंधु अस्पताल लेकर पहुंची, तब तक मौत हो चुकी थी। पूरा परिवार चाभी बनाने के कारोबार से जुड़ा था। परमजीत के विकलांग होने से उसे पेंशन मिलती थी। परिवार पेंशन के सहारे गुजारा कर रहा था। परिवार के पास अंतिम संस्कार के लिए रुपये तक नहीं थे। ऐसे में संगम पार्क चौकी प्रभारी एसआइ वीरेंद्र कुमार ने चंदा जमाकर दाह संस्कार की व्यवस्था कराई।

रात भर डंडे से की थी पिटाई
पुलिस की जांच में पता चला कि आरोपित शराब के नशे में परिवार के सदस्यों के साथ अक्सर मारपीट किया करता था। परिवार के लोग उससे दूर रहा करते थे। उसने शराब के नशे में रात भर बेटे की पिटाई की थी। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त ठंडा भी बरामद कर लिया है।