देश के नामी डाक्टर की अपील- ओमिक्रोन को हल्के में न लें, बताया कब आएगी कोरोना की पीक

 

मैंदाता के चेयरमैन डाक्टर नरेश त्रेहनः जागरण

मैंदाता के चेयरमैन डाक्टर नरेश त्रेहन ने कोरोना को लेकर चेताया है। साथ ही इसे हल्के में न लेने अपील की है। उनका कहना है कि यह संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है और अगले छह सप्ताह इसके लिए अहम हैं।

नई दिल्ली  ,surender aggarwal। ओमिक्रोन के बढ़ते मामले को लेकर मेदांता अस्पताल के चेयरमैन डाक्टर नरेश त्रेहन ने चेताया है। साथ ही इसे हल्के में न लेने अपील की है। उनका कहना है कि यह संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है और अगले छह सप्ताह इसके लिए अहम हैं, क्योंकि इसी समय सीमा में इसकी प्रवृत्ति अपने चरम पर होगी। इसके बचाव के लिए मास्क ही कारगर उपाय है। डा. त्रेहन नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) द्वारा आयोजित एक वर्चुअल कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। इसमें नई दिल्ली क्षेत्र के रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन, मार्केट एसोसिएशन और अधिकारी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि यह एक गलत धारणा है कि ओमाइक्रोन के लक्षण हल्के और निम्न श्रेणी के हैं। अब, परिदृश्य बदल रहा है और आंकड़ों से पता चलता है इसकी प्रवृत्ति छह सप्ताह में चरम पर होगी। अगले छह सप्ताह अत्यंत महत्वपूर्ण होंगे।उन्होंने सलाह दी कि केवल मास्क का उपयोग करके ही इसके संक्रमण को रोका जा सकता है। उन्होंने आगे कहा कि टीकाकरण सहायक है लेकिन पूर्णत: ढाल नहीं है। हर किसी को पूरी तरह एहतियात बरतने की जरूरत है।

त्रेहन ने होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों के घर से निकलने वाले बायोमेडिकल वेस्ट के प्रबंधन के लिए समाधान के रूप में नागरिकों की सक्रिय भूमिका और वर्तमान परिदृश्य में कचरे को कम करने के लिए पृथक्करण की भूमिका के बारे में भी बताया। एनडीएमसी के अनुसार अगला सत्र एथलीट दीपा मलिक बुधवार को इस कार्यशाला को वर्चुअल तौर पर संबोधित करेगी। एनडीएमसी ने डा. नरेश त्रेहन और एथली दीपा मलिक को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है। कार्यक्रम में एनडीएमसी के अध्यक्ष धर्मेंद्र और सचिव ईशा खोसला भी मौजूद रही।

बता दें कि दिल्ली समेत पूरे देश में कोरोना के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं। हालांकि मृत्यु दर दूसरी लहर के मुकाबले कम हैं लेकिन चिंताजनक बात यह है यह तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। बीमार लोगों के लिए यह खतरनाक साबित हो रहा है।