कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर चिंतित हुई कर्नाटक सरकार, जारी किए सख्त दिशा निर्देश

 

राज्य सरकार ने लोगों से सख्ती से दिशा-निर्देशों का पालन करने की अपील की है (फाइल फोटो)

कर्नाटक सरकार द्वारा जारी एक परिपत्र में कहा गया है यह स्पष्ट किया जाता है कि वकीलों ला फर्मों के कार्यालयों को सप्ताहांत के दौरान 50 फीसद कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति है। कोविड नियमों का सख्ती से पालन करें।

नई दिल्ली, एएनआइ। कोरोना के मामलों में वृद्धि को देखते हुए कर्नाटक सरकार ने गुरुवार को वकीलों, कानूनी फर्मों के कार्यालयों को सप्ताहांत के दौरान 50 फीसद स्टाफ के साथ काम करने के निर्देश दिए हैं। राज्य सरकार ने कोविड दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने की अपील की है।

राज्य सरकार द्वारा जारी एक परिपत्र में कहा गया है, यह स्पष्ट किया जाता है कि वकीलों, ला फर्मों के कार्यालयों को सप्ताहांत के दौरान 50 फीसद कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति है। कोविड नियमों का सख्ती से पालन करें। इसके साथी ही वेलिड आईडी कार्ड प्रस्तुत करने पर वकीलों और उनके कर्मचारियों को काम करने की अनुमति है।

बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों में फिर से तेजी आई है। पिछले 24 घंटे में एक लाख से ज्यादा कोरोना मामले सामने आए हैं। इसके अलावा ओमिक्रोन के मामले भी लगातार बढ़ रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना संक्रमण के एक लाख 17 हजार नए मामले सामने आए हैं। वहीं, इस दौरान 30 हजार 836 मरीज कोरोना से ठीक हो गए जबकि 302 मरीजों की मृत्यु हो गई। पिछले आठ दिनों में कोरोना के मामलों में बहुत ज्यादा तेजी आई है। इन दिनों में कोरोना के दैनिक मामले 10 हजार से बढ़कर एक लाख को पार कर गए हैं। इससे पहले पिछले साल छह जून को देश में कोरोना के एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए थे। उस समय कोरोना संक्रमण के कुल एक लाख 636 मामले दर्ज किए गए थे। 

ताजा आंकड़ों के बाद, देश में कोरोना के अब तक कुल 3,52,26,386 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 3,71,363 हो गई है। इसके अलावा 3,43,71,845 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं। वहीं, 4 लाख 83 हजार 178 लोगों की कोरोना के संक्रमण के कारण मृत्यु हो चुकी है।