नये साल में आगरा की इस रोड से निकलना बना मुसीबत, हाईवे पर पांच किलोमीटर लंबा जाम

 

नववर्ष के पहले दिन सिंकदरा चौराहा पर लगा भीषण जाम।

आगरा दिल्ली हाइवे पर भीषण जाम लगने से वाहनों की लगी लंबी लाइन। साल के पहले दिन ही ट्रैफिक व्यवस्था हुई फेल काम नहीं आई पुलिस की कसरत। सिकंदरा चौराहा से आइएसबीटी फ्लाइओवर तक जाम शहर के अंदर फंसे रहे लोग।

आगरा,  संवाददाता। साल के पहले दिन लोग घरों से सैर पर निकले तो हालात बेकाबू हो गए। शहर के अंदर के रोड और ताजमहल के आसपास के इलाके में भीषण जाम रहा। आगरा- दिल्ली हाईवे की ट्रैफिक व्यवस्था फेल हो गई। यहां दोपहर से करीब पांच किलोमीटर लंबा जाम लगा रहा। इससे बचने को लोग वैकल्पिक मार्गों पर निकले तो कालाेनियों में भी जाम की स्थिति बन गई। दोपहर से लेकर रात तक यही स्थिति बनी रही।

jagran

नव वर्ष के मौके पर शनिवार को लोग दोपहर में अपने-अपने घरों से सैर पर निकले। कोई मंदिर दर्शन करने तो कोई गुरुद्वारे में माथा टेकने निकला।ऐसे में शहर की सड़कों पर वाहनों की संख्या बढ़ गई।दोपहर एक बजे से हाईवे पर गुरु का ताल कट से जाम लगना शुरू हो गया। गुरु का ताल कट पर पुलिस ने वाहनों को यू टर्न लेने से रोक दिया। इन वाहनों को भी सीधा सिकंदरा चौराहा की ओर भेज दिया।शाम तक आइएसबीटी फ्लाइओवर तक जाम लग गया। इधर, सिकंदरा चौराहा पर भी भीषण जाम लग गया। यहां से लगी वाहनों की लाइन गुरु का ताल तक पहुंच गई।इस तरह हाईवे पर फंसे वाहनों की करीब पांच किलोमीटर लंबी लाइन लग गई। आइएसबीटी के सामने सिकंदरा से खंदारी की ओर जाने वाली लेन पर भी भीषण जाम लग गया। ऐसे में लोगों ने वैकल्पिक मार्गों पर निकलना शुरू किया। गुरु का ताल से सिकंदरा की ओर जाने वाले वाहन गुरु का ताल आरओबी से कर कुंज की ओर जाने को निकले। ऐसे में कैलाशपुरी तिराहा से लेकर आरओबी तक जाम लग गया। उधर, खंदारी की ओर जाने वाले वाहन महर्षि पुरम की ओर से निकले तो यहां भी जाम लग गया। शाम के समय सिकंदरा चौराहे पर लगे जाम का असर सिकंदरा आरओबी पर भी पड़ने लगा। यहां भी वाहन जाम में फंस गए। रात तक इसी तरह जाम की स्थिति बनी रही।

ताजमहल का दीदार करने भी पर्यटक बड़ी संख्या में पहुंचे। इसलिए फतेहाबाद रोड, पुरानी मंडी, माल रोड और यमुना किनारा रोड पर भी जाम रहा। एमजी रोड के सभी चौराहों, शाहगंज बाजार, बोदला चौराहा, मदिया कटरा, लोहामंडी व अन्य स्थानों पर भी शहर में जाम रहा।