बहन मालविका के कांग्रेस में शामिल होते ही सोनू सूद ने लिया बड़ा फैसला, नहीं करेंगे ये काम

 

बहन मालविका सूद सच्चर के साथ सोनू सूद, तस्वीर, Twitter: @sherryontopp

पंजाब में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में हर दिन पंजाब के अंदर राजनीति समीकरण बदल रहे हैं। वहीं हाल ही में बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता और गरीबों के मसीहा सोनू सूद की बहन मालविका सूद सच्चर ने भी राजनीति में कदम रख लिया है।

नई दिल्ल। पंजाब में नेताओं की राजनीति गतिविधियां तेज हो गई हैं। राज्य में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में हर दिन पंजाब के अंदर राजनीति समीकरण बदल रहे हैं। वहीं हाल ही में बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता और गरीबों के मसीहा सोनू सूद की बहन मालविका सूद सच्चर ने भी राजनीति में कदम रख लिया है। हाल ही में वह पंजाब कांग्रेस में शामिल हुई हैं।

जिसके बाद से कयास लगाए जा रहे हैं कि मालविका सूद सच्चर इस बार पंजाब विधानसभा का चुनाव लड़ेंगी। इसको लेकर तैयारियां भी जोरों पर हैं। वहीं भाई सोनू सूद बहन मालविका का चुनाव प्रचार करेंगे या नहीं इसको लेकर भी लंबे समय से अफवाहों का बाजार गर्म है, लेकिन अब साफ हो गया है कि अभिनेता मालविका के चुनाव प्रचार का हिस्सा होंगे या नहीं।

बहन के लिए प्रचार नहीं करेंगे सोनू सोद

सोनू सूद ने हाल ही में अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया से बात की। इस दौरान उन्होंने अपनी आने वाली फिल्मों के अलावा बहन मालविका सूद सच्चर की राजनीति को लेकर भी लंबी बात की। सोनू सूद ने कहा कि वह अपनी बहन का चुनाव प्रचार नहीं करेंगे। बहन मालविका सूद सच्चर के बारे में बात करते हुए सोनू सूद ने कहा, 'मुझे गर्व है कि उन्होंने यह कदम उठाया। वह पिछले कुछ वर्षों से वहां रह रही हैं और लोगों के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों को जानती है। मुझे खुशी है कि वह लोगों के संपर्क में रहने और सीधे उनकी मदद करने में सक्षम होंगी।'

कुछ दिन पहले की सोनू सूद ने ट्विटर के जरिए बहन के पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने को लेकर इशारा किया था। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'सभी अच्छी चीजों की तरह, यह यात्रा भी समाप्त हो गई है। मैंने स्वेच्छा से स्टेट ऑफ आइकन का पद छोड़ दिया है। मेरे परिवार के सदस्य की ओर से पंजाब विधानसभा चुनाव लड़े जाने की वजह से मैंने और चुनाव आयोग ने आपसी सहमति से यह फैसला लिया गया है। मैं उन्हें भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं देता हूं।'

सोनू सूद से पूछा गया कि क्या वह अपनी बहन के लिए प्रचार करेंगे। इस पर दिग्गज अभिनेता ने कहा, 'यह उसका सफर है, और मेरा राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है। मैं जो काम करता आया हूं उसे करता रहूंगा। मैं चुनाव में उनके लिए प्रचार नहीं करूंगा क्योंकि मैं चाहता हूं कि वह कड़ी मेहनत करें और अपना काम करें। जहां तक मेरा सवाल है, मैं हमेशा राजनीति या किसी भी राजनीतिक जुड़ाव से दूर रहूंगा।'

अभिनेता मानवतावादी के तौर पर रखेंगे अपना काम जारी

वहीं बहन से राजनीति में शामिल होने के बाद सोनू सूद ने अपने ट्वीट में लिखा था, 'जैसे ही मेरी बहन मालविका सूद ने अपना राजनीतिक सफर शुरू कर दिया है। मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं और उनकी जिंदगी के इस नए अध्याय में उन्हें फलते-फूलते देखने का इंतजार नहीं कर सकता। गुड लक मालविका! एक अभिनेता और मानवतावादी के रूप में मेरा अपना काम बिना किसी राजनीतिक जुड़ाव के जारी है'।

आपको बता दें कि पिछले हफ्ते शनिवार को ही सोनू सूद की बहन मालविका सच्चर ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ली, इस दौरान पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम चरणजीत सिंह चन्नी भी थे। इसके साथ ही उनके चुनाव लड़ने की भी बात कही जा रही है। मुख्यमंत्री चन्नी ने मालविका को मोगा से कांग्रेस प्रत्याशी बनाने के संकेत भी दिए।