नहीं मिल रहा लोन? ये हैं एप्लीकेशन क्लियर कराने के टिप्स

 

नहीं मिल रहा लोन? ये हैं एप्लीकेशन क्लियर कराने के टिप्स

अगर जरूरत के समय आपका लोन अप्रूव ना हो तो यह बहुत ही ज्यादा फ्रस्ट्रेटिंग होता है क्योंकि जब कोई व्यक्ति लोन के लिए अप्लाई करता है तो यह स्वभाविक है कि उसे लोन की जरूरत होगी।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क । अगर जरूरत के समय आपका लोन अप्रूव ना हो तो यह बहुत ही ज्यादा फ्रस्ट्रेटिंग होता है क्योंकि जब कोई व्यक्ति लोन के लिए अप्लाई करता है तो यह स्वभाविक है कि उसे लोन की जरूरत होगी। ऐसे में आज हम आपको कुछ टिप्स बताने वाले हैं, जो आपकी लोन एप्लीकेशन को अप्रूव कराने में मददगार साबित हो सकती है। अगर आपकी लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट हुई है लेकिन आप फिर से लोन के लिए अप्लाई करना चाहते हैं और लोन पास भी कराना चाहते हैं तो आपको यह टिप्स जाननी चाहिएं। 

मझें, लोन एप्लीकेशन क्यों रिजेक्ट हुई?

आपकी लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट हुई है तो क्यों रिजेक्ट हुई हैं, इन कारणों का आकलन करना और उन पर काम करना महत्वपूर्ण है। आमतौर पर, लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट करने के साथ ही आपको उसका कारण भी बताय जाता है, जिससे आप भविष्य के लिए उस खामी को सही करके खुद को लोन लेने के लिए पात्र बना सकें। लोन पास नहीं होने के कई कारणों से हो सकते हैं, जैसे- खराब क्रेडिट स्कोर (700 से कम), अपर्याप्त आय, कई लंबित लोन, पिछले लोन का भुगतान न करना या देर से भुगतान करना आदि हो सकते हैं। इसके अलावा पैन, आधार आदी जरूरी डॉक्यूमेंट में किसी कमी के कारण भी ऐसा हो सकता है।

एप्लीकेशन रिजेक्ट होने के कारण पर काम करें

जिस कारण से एप्लीकेशन रिजेक्ट हुई है, उसे कारण को समझे और उस कमी को दूर करने के लिए काम करें। मान लीजिए आपका लोन खराब कम क्रेडिट स्कोर के कारण रिजेक्ट हुआ है तो आप इसे सुधारें। आप EMI आदि का समय पर भुगतान करें, यह क्रेडिट स्कोर को अच्छा करने में मदद करेगा। अगर कोई क्रेडिट कार्ड है तो उसका कम उपयोग करें, क्रेडिट कार्ड को बंद न करें और ना नए के लिए आवेदन न करें।

बैंक आपके लंबित लोन की जानकारी कर लेता है और आपसे अकाउंट की जानकारी लेती है। ऐसे में वह चाहेगा कि आप अपनी डिस्पोजेबल आय का 55-60% से अधिक ऋण पर खर्च न करें। इसका भी ख्याल रखें। साथ ही, लोन के लिए सभी डॉक्यूमेंट्स सही से तैयार रखें ताकि नाम या पता बेमेल जैसे गैर-वित्तीय कारणों से रिजेक्ट न हो। अगर इनमें कोई परेशानी है तो पहले उसे भी सही कर लें।

बार-बार अप्लाई न करें और क्रेडिट स्कोर चेक करते रहें

हर बार जब आप लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते हैं, तो ऋणदाता आपके क्रेडिट इतिहास को अच्छे से चेक शुरू करता है। प्रत्येक चेक आपके क्रेडिट स्कोर को मामूली रूप से कम करता है। इसलिए, कम समय में कई लोन आवेदन आपके क्रेडिट स्कोर को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकते हैं। इससे बचें। यह जानने के लिए कि आपके क्रेडिट हिस्ट्री कैसी चल रही है, यह जानने के लिए आप हर महीने अपने क्रेडिट स्कोर को ट्रैक करना जारी रखें। मासिक ट्रैकिंग के दौरान आपको लगता है कि आपके क्रेडिट स्कोर के साथ कुछ छेड़छाड़ की गई है, तो आप उसे संबंधित क्रेडिट ब्यूरो के सामने उठा सकते हैं।

स्कोर में सुधार होने पर फिर से आवेदन करें

ऋण अस्वीकृति के कारण हुए नुकसान के आधार पर, आपके क्रेडिट स्कोर को सुधारने में समय लग सकता है। इसमें आमतौर पर चार से 12 महीने लगते हैं। हालांकि, यदि आपके पास पहले से ही 750 से ऊपर एक अच्छा स्कोर है, तो इसे और बेहतर बनाने में कम समय लगता है। ऋणों के भुगतान में आपकी निरंतरता और अच्छे क्रेडिट व्यवहार से आपको खराब स्कोर में सुधार करने में मदद मिलती है। जब यह सही हो जाए तब फिर आप लोन के लिए अप्लाई करें। उम्मीद है कि इस बार आपका लोन अप्रूव हो जाएगा।