अगस्त्य मुनि के आश्रम में मुस्लिम लड़की ने रचाया ब्याह, जीनत बनी ज्योति ने मांगी सुरक्षा

 

अगस्त्य मुनि के आश्रम में मुस्लिम लड़की ने रचाया ब्याह, जीनत बनी ज्योति ने मांगी सुरक्षा

जीनत अब अपने नए नाम ज्योति से जानी जाएंगी। हिंदू धर्म में आस्था जताते हुए बुधवार को जीनत ने कैंट के ही रहने वाले युवक से विवाह रचा लिया।

बरेली : जीनत अब अपने नए नाम ज्योति से जानी जाएंगी। हिंदू धर्म में आस्था जताते हुए बुधवार को जीनत ने कैंट के ही रहने वाले युवक से विवाह रचा लिया। विवाह के बाद इंटरनेट मीडिया पर वीडियो जारी करते हुए जीनत ने जोर-जबरदस्ती की बात से इन्कार कर मर्जी से विवाह की बात कही। युवती ने एसएसपी से सुरक्षा की मांग भी की है।

कैंट की रहने वाली जीनत व सचिन शर्मा के बीच प्रेम-प्रसंग था। प्रेम परवान चढ़ा तो दोनों शादी को राजी हो गए। मंगलवार को जीनत सचिन संग चली गई। इसके बाद युवती की मां कैंट थाने पहुंचे। सचिन पर बेटी को बहला-फुसलाकर ले जाने का आरोप लगाया। गैर संप्रदाय का मामला होने के चलते कैंट पुलिस तुरंत हरकत में आई। सचिन के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कर जांच में जुट गई। इसी बीच बुधवार को युवती ने विवाह रचाने के बाद इंटरनेट मीडिया पर वीडियो जारी कर दिया।

हिंदू धर्म में आस्था जताते हुए कहा कि मर्जी से विवाह किया है। दोनों बालिग हैं। लिहाजा, परेशान न किया जाए और सुरक्षा की मांग भी की। आधार कार्ड दिखाते हुए युवती ने खुद को बालिग भी बताया। पता चला कि युवती ने छोटी बमनपुरी स्थित अगस्त्य मुनि आश्रम में ब्याह रचाया। आश्रम के महंत पंडित केके शंखधार ने विवाह की रस्म पूरी कराई। इस दौरान किसी प्रकार की अनहाेनी की आशंका न रहे, लिहाजा हिंदू संगठन के कई कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

मामले में युवती की मां की तहरीर पर युवक के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज की गई है। युवती ने खुद काे बालिग बताया है। जांच की जा रही है। - राजीव कुमार सिंह, इंस्पेक्टर, कैंट