कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने चेताया, अस्पताल में भर्ती होने वालों की संख्या में हो सकता है इजाफा

 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखा है पत्र (फाइल फोटो)

सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इस संबंध में राज्य और केंद्रशासित प्रदेश को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि कोरोना के आ रहे मामलों में पांच से 10 प्रतिशत सक्रिय मामलों को अब तक अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता है।

नई दिल्ली, एएनआइ। देश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर केंद्र सरकार पूरी तरह सतर्क है। सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इस संबंध में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि कोरोना के आ रहे मामलों में पांच से 10 प्रतिशत सक्रिय मामलों को अब तक अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता है। हालांकि, उन्होंने चेतावनी दी कि कोरोना के मामले जिस प्रकार से लगातार बढ़ रहे हैं और अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता तेजी से बदल सकती है।मंत्रालय ने कहा कि इस निगरानी के आधार पर स्वास्थ्य कर्मियों की आवश्यकता और उनकी उपलब्धता की दैनिक आधार पर समीक्षा की जाए।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे पत्र में कहा कि देश में कोरोना संक्रमण के दूसरी लहर के दौरान अस्पताल में देखभाल की जरूरत वाले सक्रिय मामलों का प्रतिशत 20-23 प्रतिशत के बीच था।

केंद्र ने अस्पतालों में स्वास्थ्य कर्मियों को बढ़ाने पर दिया जोर

उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना के मामलों में वृद्धि ओमिक्रोन वैरिएंट के साथ-साथ डेल्टा के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। इस संबंध में राज्यों और केंद्र शासितप्रदेशों को कोविड प्रबंधन व मानव संसाधन को लेकर विशेष रूप से स्वास्थ्य कर्मियों को बढ़ाने पर जोर दिया गया है।

भूषण ने कहा कि कोरोना के मौजूदा उछाल में पांच से 10 प्रतिशत सक्रिय मामलों में अब तक अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता है। यह स्थिति तेजी से और बढ़ रही है। इसलिए अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता भी तेजी से बदल सकती है।

रिकार्ड स्तर पर आ रहे कोरोना के नए मामले

बता दें कि देशभर में कोरोना के मामले रिकार्ड स्तर पर दर्ज किए जा रहे हैं। बीते 24 घंटों के अंदर देश में कोरोना के 1 लाख 79 हजार 723 (1,79,723) नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 46,569 मरीज कोरोना से रिकवर भी हुए हैं। कोरोना के चलते पिछले 24 घंटों के अंदर 146 लोगों की मौत हुई है।