बिहार में फिर लगेगा लाकडाउन! कोरोना के बढ़ते मामलों को ले CM नीतीश ने दिया सख्‍ती का संकेत

 

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार। फाइल तस्‍वीर।

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के अनुसार बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण की तीसरी लहर आ चुकी है। राज्‍य में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्‍यमंत्री ने सोमवार को फिर लाकडाउन लगाए जाने का संकेत देते हुए बड़ी बात कही।

पटना, आनलाइन डेस्‍क। बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण की तीसरी लहरकी एंट्री हो चुकी है। तेजी से फैल रहे संक्रमण पर काबू पाना पहली जरूरत है, अन्‍यथा एक बार फिर हालात बिगड़ सकते हैं। बीते पांच दिनों की ही बात करें तो कोरोनावायरस संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ी है। बीते 29 दिसंबर को बिहार में जहां 77 संक्रमित सामने आए थे, वहीं दो जनवरी को 352 लोग कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। ऐसे में आश्‍चर्य नहीं कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार  एक बार फिर लाकडाउन की संभवना जताते दिख रहे हैं।

सोमवार को मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वे कल (मंगलवार) हाई लेवल बैठक में बिहार में वे लाकडाउन लगाने पर विचार करेंगे। उन्‍होंने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में पाबंदियों की ओर इशारा किया है। कहा है कि अधिकारियों से सभी राज्यों में जारी किए गए कोरोना गाइडलाइंस को देखने के लिए कहा गया है। कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। बिहार में लागू कोरोना अनलाक  की मियाद पांच जनवरी को समाप्‍त हो रही है। पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्‍थान में 15 से 18 साल के किशोरों के कोरोना टीकाकरण का आरंभ करने पहुंचे मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कल कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए बैठक बुलाई गई है। बैठक में विमर्श के बाद फैसला लिया जाएगा।


पांच दिनों में तेजी से फैला है कोरोना

बीते पांच दिनों के दौरान बिहार में कोरोना तेजी से फैला है। बीते 29 दिसंबर 2021 को कोरोना के 77 संक्रमित मरीज मिले थे। आगे 30 दिसंबर 2021 को मिले नए संक्रमितों की संख्‍या 132 थी। नए साल के पहले दिन एक जनवरी को फिर 281 नए मरीज मिले। दो जनवरी को तो कोरोना के 352 नए मामलों के साथ कोरोना का विस्‍फोट ही हो गया। आंकड़े बताते हैं कि बिहार में पांच दिनों के दौरान कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। बीते शनिवार से रविवार के बीच की बात करें तो बिहार में करीब 26 फीसद की दर से मामले बढ़े। शनिवार को 281 तो रविवार को 352 नए मरीज मिले। बीते 18 जुलाई 2021 को मिले 347 संक्रमितों के बाद से यह पहला बड़ा आंकड़ा है।