पूर्व कैबिनेट मंत्री कंग ने सीएम चन्नी पर साधा निशाना, कहा- 10 मार्च को पंजाब में कांग्रेस का पतन तय

 

आप नेता जगमोहन सिंह कंग और सीएम चरणजीत सिंह चन्नी। फाइल फोटो

इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने जगमोहन कंग को टिकट नहीं दी और विजय शर्मा टींकू को उम्मीदवार बनाया ता। पार्टी द्वारा टिकट न दिए जाने के बाद कंग ने बागी तेवर दिखाते हुए साथियों समेत आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए।

नयागांव। Punjab Election Result: तीन दिन बाद यानी 10 मार्च को पंजाब विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे। पंजाब की जनता भी चुनाव परिणामों का बेसब्री के इंतजार कर रही है। मतदान के बाद और मतगणना से पहले भी आरोप प्रत्यारोप की सियासत जारी है। पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री जगमोहन सिंह कंग ने एक बार फिर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और प्रभारी हरीश चौधरी पर निशाना साधा है। इस बार उन्होंने एक कविता (गीत) के जरिये कांग्रेस पर जुबानी हमला बोला है। कंग ने कविता के माध्यम से पंजाब में कांग्रेस के पतन में मुख्यमंत्री और पार्टी प्रभारी हरीश चौधरी का हाथ होना बताया। कंग ने कहा है कि चुनाव परिणाम आने वाले हैं और कांग्रेस की हार तय है। कंग की यह कविता (ऑडियो) सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।गौरतलब है कि जगमोहन सिंह कंग विधानसभा क्षेत्र खरड़ से पिछले कई वर्षों से चुनाव लड़ते आ रहे हैं और वे कई बार चुनाव हारे और कई बार जीते भी हैं। उन्हें विधायक बनने पर कांग्रेस पार्टी द्वारा मंत्री पद से भी दिया गया था। इस बार विधानसभा चुनाव में टिकट कांग्रेस ने उन्हें टिकट नहीं दी और विजय शर्मा टींकू को उम्मीदवार बनाया ता। पार्टी द्वारा टिकट न दिए जाने के बाद कंग ने बागी तेवर दिखाते हुए साथियों समेत आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए। इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री चन्नी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया गया था। कंग ने ऐलान किया था कि वह खरड़ में चन्नी के खिलाफ प्रचार करेंगे, हालांकि बाद में वह आप में शामिल हो गए। उनके दोनों बेटे आप में शामिल हुए थे।

जगमोहन कंग ने कविता के माध्यम से पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश चौधरी और मुख्यमंत्री चन्नी पर टिकटें बेचने का आरोप भी लगाया है। उन्हें अपनी टिकट कटने का मलाल अब भी है। ऐसे में कंग अपनी भड़ास को कविता के जरिए सोशल मीडिया पर लोगों के समक्ष रखा गया और पंजाब में कांग्रेस पार्टी का पतन होना तय बताया।