14 मार्च से शुरु होगा बजट सत्र का दूसरा चरण, 19 घंटे का अतिरिक्त कार्य समय मिलेगा

 

14 मार्च से शुरु होगा बजट सत्र का दूसरा चरण

Budget Session राज्यसभा में 14 मार्च को बजट सत्र के दूसरे चरण में 19 घंटे का अतिरिक्त कार्य समय मिलेगा। 19 बैठकों के दौरान सदन की बैठक सुबह 11 बजे से शाम 6 बजे जारी रहेगी जबकि प्रश्नकाल एक घंटे के लिए रखा जाएगा

नई दिल्ली, एएनआइ।‌ देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के लगातार कम होते मामलों के बीच, राज्यसभा और लोकसभा में बजट सत्र के दूसरे चरण में फिर से सामान्य बैठकें में शुरु होने जा रही हैं। यह बैठकें कोविड-19 प्रोटोकाल के तहत की जाएंगी। वहीं बता दें कि राज्यसभा में सोमवार को बजट सत्र के दूसरे चरण में 19 घंटे का अतिरिक्त कार्य समय मिलेगा। पहले से निर्धारित 19 बैठकों के दौरान सदन की बैठक सुबह 11 बजे से सायं 6 बजे तक जारी रहेगी, जबकि यदि बजट सत्र के पहले चरण की बात करें तो यह सुबह 10 बजे से दोपहर के 3 बजे तक की जाएगी।

हर मुद्दों को उठाने के लिए मिलेगा इतना समय

सदन में प्रति बैठक एक घंटे के बैठने के समय में समय वृद्धि के साथ राज्यसभा को सत्र के दूसरे पार्ट के दौरान सरकार के कार्यों को करने और सार्वजनिक महत्व के मुद्दों को उठाने के लिए 64 घंटे 30 मिनट का समय मिलेगा। इसका मतलब यह हुआ कि सदन में गैर-सरकारी सदस्यों के कार्य के लिए चार दिन का समय होगा। प्रश्नकाल एक घंटे के लिए जारी रहेगा, जबकि शून्यकाल जो पहले भाग के दौरान आधा घंटा कर दिया गया था, वह अब हर बैठक में पूरे एक घंटे का होगा।‌

आपको बता दें कि बजट सत्र 30 दिनों के अवकाश के बाद फिर से शुरु होने जा रहा है, जिसके दौरान 'विभाग संबंधित संसदीय स्थायी समितियों (डीआरएससी)' ने विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की डिमांड फार ग्रांट की जांच की। सोमवार को राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू के सदन में राज्यसभा के डीआरएससी के इस अवकाश के दौरान कामकाज का लेखा-जोखा देने की संभावना जताई गई है।

वहीं यदि बजट सत्र के पहले चरण की बात करें तो सदन में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के लिए 12 घंटे की जगह 15 घंटे चर्चा हुई थी, ऐसे ही आम बजट पर सामान्य चर्चा के लिए आवंटित 12 घंटे के स्थान पर कुल 15 घंटे 33 मिनट चर्चा हुई थी, जिसमें 81 सदस्यों ने हिस्सा लिया था।