होली पर घर जाने में नहीं होगी असुविधा, उत्तर रेलवे त्‍योहार के लिए 15 ट्रेनों में लगा रहा अतिरिक्त कोच

 

रेलवे मुरादाबाद से गुजरने वाली 15 ट्रेनों में अतिरिक्‍त कोच लगाएगा

उत्तर रेलवे प्रशासन ने 50 से अधिक होली स्पेशल ट्रेनें चलाना शुरू कर दिया है। अधिकांश होली स्पेशल ट्रेनों में बर्थ भर चुका है। नियमित ट्रेनों में पहले से वेटिंग का टिकट मिल रहा है। उत्तर रेलवे मुख्यालय होली में घर पहुंचने की व्यवस्था 12 मार्च से करेगा।

मुरादाबाद। ट्रेनों में होली में घर जाने वालों की भीड़ बढ़ना शुरू हो गई है। रेलवे होली स्पेशल ट्रेन के साथ नियमित ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाने जा रहा है। उत्तर रेलवे से चलने वाली 15 ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाने की व्यवस्था किया है।

उत्तर रेलवे प्रशासन ने 50 से अधिक होली स्पेशल ट्रेनें चलाना शुरू कर दिया है। अधिकांश होली स्पेशल ट्रेनों में बर्थ भर चुका है। नियमित ट्रेनों में पहले से वेटिंग का टिकट मिल रहा है। उत्तर रेलवे मुख्यालय अधिक से अधिक यात्रियों को होली में घर पहुंचने की व्यवस्था 12 मार्च से करने जा रहा है। स्लीपर क्लास में सौ वेटिंग वालों को बर्थ उपलब्ध हो जाएगा। इसके लिए उत्तर मुख्यालय ने 15 नियमित ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाने की व्यवस्था करने जा रहा है। जिसमें मुरादाबाद होकर चलने वाली नई दिल्ली-काठगोदाम शताब्दी एक्सप्रेस, लखनऊ चंडीगढ़ इंटरसिटी एक्सप्रेस, अमृतसर-जयनगर शहीद एक्सप्रेस में एक से दो अतिरिक्त कोच लगाए जाएंगे।

प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि लगातार ट्रेनों के आरक्षण सिस्टम पर निगरानी किया जा रहा है, जिससे ट्रेनों में वेटिंग यात्रियों की संख्या अधिक होती है, उसकी सूचना उत्तर रेलवे मुख्यालय भेजा जा रहा है।

मालगाड़ी बोगी की मरम्मत में तेजी लाएंं: उत्तर रेलवे के मुख्य रोलिंग स्टाक इंजीनियर (सीआरएसई) माल प्रशांत कुमार ने शुक्रवार को मुरादाबाद निरीक्षण करने पहुंचे और मालगाड़ी की बोगियों की तेजी से मरम्मत करने का आदेश दिया है। रेल प्रशासन लगातार मुख्यालय से अधिकारियों को सभी रेल मंडल में निरीक्षण करने भेज रहे हैं। अधिकारी अपने विभाग में जो कमी हो उसका सुधार कराया जा सके। सीआरएसई माल सुबह मुरादाबाद पहुंचे और कैरज एंड वैगन विभाग के डिपो का निरीक्षण किया, जहां मालगाड़ी के बोगियों की मरम्मत किया जा रहा था। सीआरएसई माल ने कहा कि लगातार माल ढुलाई से मालगाड़ियों की संख्या बढ़ गई है। इस लिए बोगी की तेजी से मरम्मत करे, जिससे मांग के अनुरुप मालगाड़ी चलाया जा सके। इसके बाद चालक विश्राम गृह, चालक ड्यूटी रूम आदि का निरीक्षण किया। अधिकारियों को छोटी मोटी कमी को दूर करने का आदेश दिए। इसके बाद मंडल रेल प्रबंधक अजय नंदन से मुलाकात की और यांत्रिक विभाग से संबंधित मामले पर बातचीत की। निरीक्षण के दौरान प्रवर मंडल यांत्रिक अभियंता समर्थ सिंह उपस्थित थ

े।