कर्नाटक की 17 वर्षीय लड़की बहु-प्रतिभा की धनी, 60 से अधिक गतिविधियों में शानदार प्रदर्शन कर जीते ढेरों पुरस्कार

 

कर्नाटक की 17 वर्षीय लड़की बहु-प्रतिभा की धनी, 60 से अधिक गतिविधियों में शानदार प्रदर्शन

कर्नाटक के कलबुर्गी की 17 वर्षीय लड़की आकांक्षा पुराणिक ढेरों प्रतिभाओं से परिपूर्ण है। आकांक्षा तबला गिटार सितार जैसे कई संगीत वाद्ययंत्र बजाना जानती हैं। आकांक्षा ने गायन नृत्य संगीत वाद्ययंत्र बजाने जैसे विभिन्न क्षेत्र 60 से अधिक गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर कई पुरस्कार जीते हैं।

कलबुर्गी, एएनआइ। प्रतिभा किसी उम्र की मोहताज नहीं होती है, इस कथन को पुनः एक 17 वर्षीय लड़की ने सच कर दिखाया है। कर्नाटक के कलबुर्गी में आकांक्षा पुराणिक नाम की इस बहु-प्रतिभाशाली लड़की की जितनी प्रसंशा की जाए उतना कम है। आकांक्षा पुराणिक हारमोनियम, तबला, गिटार, सितार जैसे कई संगीत वाद्ययंत्र बजाना जानती हैं। आकांक्षा के पास ना सिर्फ इन संगीत यंत्रो को बजाने की तालीम हासिल है, बल्कि उन्होंने गायन, कराटे, भरतनाट्यम आदि जैसी 60 से अधिक गतिविधियों में शानदार प्रदर्शन कर ढेरों पुरस्कार जीते हैं।

jagran

जानें क्या कहती हैं आकांक्षा

सुर-संगीत की दुनिया में अपने हुनर से हर किसी को मंत्रमुग्ध करने वाली 17 वर्षीय आकांक्षा में अनेकों खूबियां हैं। आकांक्षा अपनी मां को प्रेरणा मानती हैं , उन्होंने समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत करते हुए बताया, ' मेरी मां मेरी प्रेरणा रही हैं, उन्होंने मुझे विभिन्न क्षेत्रों में उद्यम करने के लिए प्रोत्साहित किया।'

jagran

आकांक्षा ने कहा, 'मैं एक (IAS) अधिकारी बनना चाहता हूं और मुझे 5 भाषाएं भी आती हैं, जिसमें हिंदी, अंग्रेजी, कन्नड़, तेलुगु और मराठी भाषा शामिल है।' आगे उन्होंने कहा कि वह हारमोनियम, तबला, सितार, गिटार बजाना और भारतीय शास्त्रीय भरतनाट्यम और कराटे भी बजाना जानती हैं। आकांक्षा ने बताया, 'वर्तमान में, मैं कराटे और किकबाक्सिंग में अधिक शामिल हूं।'

jagran

ढेरों पुरस्कार हैं आकांक्षा के नाम

कर्नाटक के कलबुर्गी की 17 वर्षीय लड़की आकांक्षा पुराणिक कालेज में प्रथम वर्ष की छात्रा हैं, उन्होंने छोटी सी उम्र में बड़े-बड़े काम किए हैं। बता दें कि आकांक्षा ने गायन, नृत्य, संगीत वाद्ययंत्र बजाने जैसे विभिन्न क्षेत्र 60 से अधिक गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर कई पुरस्कार जीते हैं। आकांक्षा पुराणिक ने कहा कि उसने पिछले चार वर्षों में 300 शील्ड जीते हैं और 600 प्रमाण पत्र प्राप्त किए हैं। साथ ही आकांक्षा कराटे में ब्लैकबेल्ट होल्डर भी है।

jagran

jagran

आकांशा के करीबी रिश्तेदार विजयकुमार ने कहा कि वह 'रेगिस्तान में नखलिस्तान' की तरह हैं। बहु-प्रतिभाशाली लड़की की प्रशंसा करते हुए, उन्होंने कहा कि आकांक्षा एक शिक्षार्थी है और वह जो कुछ भी सीखने का फैसला करती है उसे हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करती है। उन्होंने आगे कहा, 'वह थकती नहीं है। उसने मुश्किल से चार साल में बहुत कुछ हासिल किया है। छठी कक्षा से लेकर अब तक उसने सब कुछ किया है।'