डेब्यू टेस्ट में रोहित शर्मा का दमदार प्रदर्शन, श्रीलंका को पहले टेस्ट में पारी और 222 रन से हराया

 

कप्तान रोहित शर्मा के साथ टीम इंडिया के अन्य खिलाड़ी (एपी फोटो)

Ind vs SL 1st test match भारत को मोहाली टेस्ट में बड़ी जीत मिली और टीम के जीत के हीरो रवींद्र जडेजा रहे जिन्होंने 175 रन की नाबाद पारी खेली और इस मैच में कुल 9 विकेट भी लिए।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। Ind vs SL 1st Test : भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला मोहाली में खेला गया। इस मैच में इस मैच की पहली पारी में भारत ने 8 विकेट पर 574 रन बनाए थे तो वहीं  इसके जवाब में श्रीलंका की पहली पारी केवल 174 रन पर सिमट गई। भारत ने श्रीलंका को फालोआन खेलने के लिए मजबूर कर दिया और श्रीलंका की टीम एक बार फिर से दूसरी पारी में 178 रन पर आल आउट हो गई। इस मैच में भारत को पारी और 222 रन के बड़े अंतर से जीत मिली। इस जीत के बाद भारत टेस्ट सीरीज में 1-0 से आगे हो गया है। इस मैच में भारत की जीत के हीरो रवींद्र जडेजा रहे जिन्होंने पहले नाबाद 175 रन की पारी खेली और फिर श्रीलंका के खिलाफ मैच की पहली पारी में 5 और फिर दूसरी पारी में 4 विकेट लिए। वहीं भारतीय कप्तान रोहित शर्मा का ये डेब्यू टेस्ट मैच था और उनकी कप्तानी में टीम इंडिया के टेस्ट सफर की बेजोड़ शुरुआत हुई। 

भारत की पहली पारी, जडेजा का शतक

भारतीय टीम ने पहली पारी में 574 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया और टीम को इस स्कोर तक ले जाने में आलराउंडर रवींद्र जडेजा की बल्लेबाजी का बड़ा योगदान रहा। जडेजा ने अपने टेस्ट करियर की बेस्ट पारी खेलते हुए नाबाद 175 रन बनाए। वहीं पहली पारी में रिषभ पंत ने 96 रन की पारी खेली और शतक से चूक गए। भारत की तरफ से पहली पारी में हनुमा विहारी ने 58 रन की जबकि आर अश्विन ने 61 रन की अच्छी पारी खेली। विराट कोहली ने 45 रन बनाए तो वहीं कप्तान रोहित शर्मा ने 29 रन की पारी खेली। मयंक अग्रवाल ने भी टीम के लिए 33 रन का योगदान दिया जबकि श्रेयस अय्यर ने 27 रन की पारी खेली।

श्रीलंका की दूसरी पारी, निरोशन डिकवेला का नाबाद अर्धशतक

श्रीलंका को दूसरी पारी में पहला झटका थिरिमाने के रूप में लगा उन्हें अश्विन ने आउट किया। वो अपना खाता भी नहीं खोल पाए जबकि दूसरे विकेट के रूप में निसानका आउट हुए उन्होंने 6 रन की पारी खेली। निसानका को आर अश्विन ने आउट किया। श्रीलंका को तीसरा झटका शमी ने कप्तान दिमुथ करुणारत्ने को आउट करके दिया और उन्होंने 27 रन बनाए। चौथे विकेट के रूप में डी सिल्वा आउट हो गए हैं उन्हें जडेजा ने आउट किया। उन्होंने 30 रन की पारी खेली। चरिथ असलंका 20 रन बनाकर अश्विन का शिकार बने तो वहीं मैथ्यूज 28 रन पर जडेजा की गेंद पर आउट हो गए। सुरंगा लकमल को जडेजा ने खाता भी नहीं खोलने दिया। जडेजा ने श्रीलंका को 8वां झटका लसिथ एम्बुलडेनिया के रूप में दिया। उन्होंने 2 रन बनाए। मोहम्मद शमी ने फर्नांडो को आउट कर श्रीलंका को 9वां झटका दिया। लाहिरू कुमारा को अश्विन ने चार रन पर आउट कर दिया जबकि निरोशन डिकवेला ने नाबाद 51 रन की पारी खेली। दूसरी पारी में भारत की तरफ से अश्विन व जडेजा ने चार-चार जबकि शमी ने दो विकेट लिए। 

श्रीलंका की पहली पारी,  बल्लेबाजों ने किया खराब प्रदर्शन

श्रीलंका को पहला झटका थिरिमाने के रूप में लगा जिन्हें अश्विन ने 17 रन के स्कोर पर पगबाधा आउट किया। श्रीलंका को दूसरा झटका जडेजा ने दिया और उन्होंने कप्तान करुणारत्ने को 28 रन के स्कोर पर पवेलियन भेजा। तीसरे विकेट के रूप में एंजोलो मैथ्यूज को श्रीलंका ने खो दिया और उन्हें 22 रन पर बुमराह ने आउट किया। अश्विन ने डी सिल्वा को अपना दूसरा शिकार बनाया और श्रीलंका को चौथा झटका दिया। डी सिल्वा ने पहली पारी में सिर्फ एक बनाया। खेल के तीसरे दिन श्रीलंका का 5वां झटका बुमराह ने दिया। बुमराह ने असलांका को पगबाधा आउट किया, उन्होंने 29 रन बनाए। श्रीलंका को डिकवेला के रूप में छठा जबकि लकमल के रूप में 7वां झटका लगा। डिकवेला और लकमल को जडेजा ने पवेलिया भेजा। एम्बुलडेनिया के रूप में टीम का 8वां झटका शमी ने दिया। श्रीलंका को 9वें विकेट के रूप में फर्नांडो और 10वें विकेट के रूप में लाहिरू कुमारा को गंवाना पड़ा। भारत की तरफ से पहली पारी में रवींद्र जडेजा ने सबसे ज्यादा पांच विकेट लिए जबकि बुमराह व अश्विन को दो-दो और शमी को एक सफलता मिली। 

भारत की प्लेइंग इलेवन

रोहित शर्मा (कप्तान), मयंक अग्रवाल, हनुमा विहारी, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, जयंत यादव।

श्रीलंका की प्लेइंग इलेवन

दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), लाहिरू थिरिमाने, पथुम निसानका, चरित असलांका, एंजेलो मैथ्यूज, धनंजया डी सिल्वा, निरोशन डिकवेला (विकेटकीपर), सुरंगा लकमल, विश्वा फर्नांडो, लसिथ एम्बुलडेनिया, लाहिरू कुमारा।