बजटः राजधानी में हर घर को मिलेगा 24 घंटे पानी, जल उपलब्धता में 10 प्रतिशत की वृद्धि

 

बजटः राजधानी में हर घर को मिलेगा 24 घंटे पानी, जल उपलब्धता में 10 प्रतिशत की वृद्धि

राजधानी के प्रत्येक घर में अगले तीन वर्षों 24 घंटे शुद्ध जल आपूर्ति करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसे हासिल करने के लिए सरकार काम कर रही है जिससे दिल्ली में पानी की उपलब्धता में 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

नई दिल्ली राज्य ब्यूरो। राजधानी के प्रत्येक घर में अगले तीन वर्षों 24 घंटे शुद्ध जल आपूर्ति करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसे हासिल करने के लिए सरकार काम कर रही है जिससे दिल्ली में पानी की उपलब्धता में 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। पहले यहां प्रतिदिन 915 एमजीडी (मिलियन गैलन प्रतिदिन) पानी उपलब्ध होता था अब यह बढ़कर 985 एमजीडी हो गया है। इससे जल आपूर्ति की स्थिति सुधरी है। साथ ही दिल्लीवासियों को मुफ्त पानी योजना का लाभ मिलता रहेगा। सरकार ने वर्ष 2015 में प्रति माह 20 हजार लीटर खपत करने वाले उपभोक्ताओं को मुफ्त पीने का पानी देने की योजना शुरू की थी। इसे अगले वित्त वर्ष में भी जारी रखने का फैसला किया गया है। इस योजना से लगभग साढ़े छह लाख उपभोक्ताओं को लाभ मिल रहा है। उनका पानी बिल शून्य आ रहा है। सरकार का मानना है कि इससे उपभोक्ताओं को लाभ हो रहा है और पानी की बर्बादी भी कम हो रही हैदिल्ली में स्वच्छ पानी उपलब्ध कराना बड़ी चुनौती है। इस दिशा में सरकार लगातार काम कर रही है। बाहर से मिलने वाले पानी के बेहतर प्रबंधन पर ध्यान दिया जा रहा है। पानी की बर्बादी कम हो इसके लिए पाइप लाइन को मरम्मत की जा रही है। पुरानी पाइप लाइन बदली जा रही है। ज्यादा घरों में नल से पानी पहुंच सके इसके लिए नई पाइप लाइन बिछाई जा रही है। दिल्ली में पानी का अपना स्त्रोत नहीं है। दूसरे राज्यों पर निर्भरता कम करने के लिए बारिश के पानी का सदुपयोग करने पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। इसके लिए वर्षा जल संग्रहण प्रणाली लगाने के नियमों को आसान बनाया गया है। इस प्रणाली को लगाने के लिए वित्तीय सहायता देने के साथ ही पानी के बिल में छूट दी जाती है। इन प्रयासों से 24 घंटे पानी आपूर्ति का लक्ष्य हासिल करने की कोशिश हो रही है।

अनधिकृत कालोनियों में व झुग्गी बस्तियों में भी पानी आपूर्ति की स्थिति सुधारने के लिए काम चल रहा है। जिन क्षेत्रों में पाइप लाइन नहीं है वहां टैंकर से जल आपूर्ति की व्यवस्था की गई है। जीपीएस वाले टैंकर से पानी आपूर्ति में होने वाली गड़बड़ी को दूर करने में मदद मिल रही है।

अनधिकृत कालोनियों में बिछेगी सीवर लाइन

कई अनधिकृत कालोनियों में सीवर लाइन नहीं होने से सफाई व्यवस्था बनाने में परेशानी होती है। इस समस्या के समाधान के लिए अनधिकृत कालोनियों में सीवर लाइन बिछाने का काम चल रहा है। इस वर्ष के अंत तक यह काम पूरा हो जाएगा।