पेशावर में जुमे की नमाज के दौरान मस्जिद में आत्‍मघाती बम धमाका, 30 लोगों की मौत, 80 घायल

 

Peshawar Bomb Blast Latest Hindi News: धमाके में कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई।

Pakistan Bomb blast in Peshawar पेशावर की एक मस्जिद में जुमे की नमाज के दौरान हुए शक्तिशाली बम धमाके में कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई जबकि कम से कम 80 घायल हो गए। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस प्रशासन आपात स्थिति में है।

पेशावर, एजेंसियां। पाकिस्तान के पेशावर की एक मस्जिद में जुमे की नमाज के दौरान हुए एक शक्तिशाली बम धमाके में कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई जबकि कम से कम 80 घायल हो गए। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस प्रशासन अलर्ट पर है। घायलों को अस्पताल ले जाया जा रहा है। बम विस्फोट की प्रकृति की जांच हो रही है। यह एक आत्मघाती हमला मालूम पड़ रहा है।  

समाचार एजेंसी पीटीआइ ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि बम धमाका पेशावर के किस्सा ख्वानी बाजार (Qissa Khwani bazaar) इलाके में जामिया मस्जिद में उस समय हुआ जब नमाजी जुमे की नमाज अदा कर रहे थे। यह एक शिया मस्जिद जो काफी व्‍यस्‍ततम इलाके में मौजूद है। घटना के दौरान बड़ी संख्‍या में लोग मौजूद थे। फ‍िलहाल किसी भी संगठन ने हमले की जिम्‍मेदारी नहीं ली है।पाकिस्‍तानी अखबर 'डान' की रिपोर्ट के मुताबिक लेडी रीडिंग के मीडिया मैनेजर असीम खान ने कहा कि अब तक 30 शवों को अस्पताल लाया जा चुका है। हमले में जख्‍मी 10 लोगों की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। इससे घायलों की संख्‍या के और बढ़ने की आशंका है। पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस अधिकारी पेशावर एजाज अहसान ने कहा कि दो हमलावरों ने मस्जिद में घुसने की कोशिश की।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि हमलावरों ने मौके पर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी भी की। इस हमले में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया है। फ‍ायर‍िंग की घटना के बाद यह बम धमाका हुआ। गौरतलब है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान के आने के बाद पाकिस्‍तान में आतंकी हमले बढ़ गए हैं। तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्‍तान (टीटीपी) ने इमरान खान सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

उल्‍लेखनीय है कि इस महीने की शुरुआत में हथियारों से लैस हमलावरों ने पाकिस्तान के अशांत दक्षिण-पश्चिमी बलूचिस्तान प्रांत में सुरक्षा बलों के दो शिविरों पर हमला कर दिया था। इस हमले में कई हताहत हुए थे। प्रतिबंधित बलूच लिबरेशन आर्मी ने पंजगुर और नौशकी जिलों में हुए इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। हाल के दिनों में इस अलगाववादी संगठन ने भी अपने हमले बढ़ा दिए हैं।