सदस्यता के बढ़े आंकड़े पर कांग्रेस को भी आश्चर्य, बैठक में 31 मार्च तक अभियान को और गति देने का निर्देश

 

सदस्यों के बढ़े आंकड़े से कांग्रेस को भी आश्चर्य (फाइल फोटो)

कांग्रेस ने 31 मार्च तक सदस्यता अभियान को और गति देने का राज्य इकाइयों को निर्देश दिया है। साथ ही हासचिवों और राज्य प्रभारियों की बैठक में संगठन चुनाव और सदस्यता अभियान की समीक्षा की है। पार्टी ने सदस्यता अभियान को उम्मीद से बेहतर करार दिया है।

ब्यूरो, नई दिल्ली: कांग्रेस ने अपने संगठनात्मक चुनाव को अंजाम देने की खातिर राज्य इकाइयों से पार्टी की सदस्यता अभियान को गति देने के लिए कहा है। कांग्रेस महासचिवों और राज्यों के प्रभारियों की शनिवार को हुई बैठक में संगठन चुनाव को देखते हुए 31 मार्च तक हर हाल में सदस्यता अभियान को पूरा कर लेने का प्रदेश इकाइयों को निर्देश दिया गया है।

पांच राज्यों में चुनावी हार के बाद अंदरूनी संकट का सामना कर रही कांग्रेस ने सदस्यता अभियान की अब तक की प्रगति को उम्मीद से बेहतर करार दिया है। कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला ने बैठक में संगठन चुनाव और सदस्यता अभियान की समीक्षा से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अभी पूरे आंकड़े को सार्वजनिक करना उचित नहीं है। मगर यह जरूर है कि कांग्रेस की सदस्यता का आंकड़ा बढ़ा है। राज्यों के प्रभारियों ने बैठक के दौरान सदस्यता के अपने-अपने आंकड़े पेश किए। मोटे तौर पर इसकी गणना की गई, जिससे साफ है कि कांग्रेस की सदस्यता में इजाफा हुआ है।

आंकड़ों से आश्चर्य में सुरजेवाला

सुरजेवाला ने कहा कि यह आंकड़ा पार्टी के लिए भी सुखद आश्चर्य है। इसे देखते हुए ही 31 मार्च तक सदस्यता अभियान को गति देने के लिए कहा गया है। संगठन चुनाव के मद्देनजर सदस्यता अभियान की कट आफ तारीख 31 मार्च रखी गई है। कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पार्टी महासचिवों और राज्य प्रभारियों की बैठक की अध्यक्षता की। इसमें महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, मुकुल वासनिक, तारिक अनवर, अजय माकन, ओमन चांडी, रणदीप सुरजेवाला, शक्ति सिंह गोहिल आदि मौजूद थे।