दुष्कर्म का मुकदमा वापस नहीं लेने पर आरोपित के स्वजनों ने युवती को पीटा, महिला आयोग ने पुलिस को भेजा नोटिस

 

आरोपित के स्वजनों ने चाकू दिखाते हुए मुकदमा वापस लेने की बात कही और युवती को धमकाया।

मुकदमा वापस न लेने को लेकर गुस्सा जाहिर करते हुए उन्होंने बाल पकड़ कर उनको कई थप्पड़ मारे। इतने में उत्तरा ने चाकू लाकर अपने पति वीरपाल को दे दिया। वीरपाल ने उनको चाकू दिखाते हुए मुकदमा वापस लेने की बात कही और धमकाया।

नई दिल्ली, संवाददाता। दुष्कर्म का मुकदमा वापस नहीं लेने पर आरोपित युवक के स्वजन ने युवती को रास्ते में रोक कर मारपीट की। उन्होंने पीड़िता को चाकू दिखाकर जान से मारने की धमकी भी दी। उन्होंने कहा कि वह अगली सुनवाई पर अपना बयान पलट दे। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने युवक के पिता वीरपाल, मां उत्तरा और बहन प्रीति के खिलाफ धमकाने, मारपीट करने व रास्ता रोकने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पीड़ित युवती ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि पिछले साल आरोपित विवेक ने उनके साथ दुष्कर्म किया था। उनकी शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर विवेक को गिरफ्तार कर लिया था। युवती ने आरोप लगाया कि तब से युवक के स्वजन उन पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे थे। ऐसा न करने पर वह कई बार जान से मारने की धमकी दे चुके थे। इसकी वह पुलिस को शिकायत कर चुकी थीं।

युवती ने बताया कि 23 मार्च को रात करीब आठ बजे वह भाभी के साथ अपने कमरे पर सामान लेने जा रही थी। रास्ते में विवेक की मां उत्तरा, बहन प्रीति और पिता वीरपाल ने उनको रोक लिया। मुकदमा वापस न लेने को लेकर गुस्सा जाहिर करते हुए उन्होंने बाल पकड़ कर उनको कई थप्पड़ मारे। इतने में उत्तरा ने चाकू लाकर अपने पति वीरपाल को दे दिया। वीरपाल ने उनको चाकू दिखाते हुए मुकदमा वापस लेने की बात कही और धमकाया।

वहीं, गाजीपुर इलाके में आटो में अगवा कर महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म के मामले में दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को नोटिस भेज कर जवाब मांगा है। इसमें अब तक एक भी आरोपित गिरफ्तार नहीं हुआ है। 29 मार्च तक आयोग ने जवाब मांगा है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पुलिस को भेजे नोटिस को ट्वीट किया है। इस मामले में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि आरोपितों को पकड़ने के लिए पांच टीमें गठित की गई हैं।

वारदात सीमापुरी से गाजीपुर के बीच हुई है। इस रूट पर लगे सौ से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा चुकी है। पीड़िता सफदरजंग अस्पताल की आइसीयू में भर्ती है। बता दें कि बुधवार देर शाम महिला गाजीपुर मुर्गा व मछली मंडी के पास जख्मी हालत मिली थी। आटो चालक और उसके साथी ने महिला के साथ दुष्कर्म किया था।