पाकिस्‍तान के गृह मंत्री शेख रशीद का आरोप, नवाज शरीफ ने भारत को दिया था आतंकी अजमल कसाब का ब्‍योरा

 

पाकिस्‍तानी आतंकी अजमल कसाब और गृह मंत्री शेख रशीद।

पाकिस्‍तानी संसद में रखे विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री शेख रशीद ने आरोप लगाया कि नवाज शरीफ ने भारत को आतंकी अजमल कसाब का ब्योरा दिया जिसने 2008 में मुंबई में 26/11 हमले की शुरुआत की थी।

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तानी संसद में रखे विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद ने आरोप लगाते हुए नाराजगी जताई कि तीन बार प्रधानमंत्री रहे और पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के प्रमुख नेता नवाज शरीफ ने भारत को पाकिस्‍तान स्थित लश्कर ए तैयबा के मृत आतंकी अजमल कसाब का ब्योरा दिया था, जिसने 2008 में मुंबई में 26/11 हमले की शुरुआत की थी। अजमल कसाब पाकिस्तान के फरीदकोट का रहने वाला था। 

2008 में हुआ मुंबई आतंकी हमला

2008 में देश की वित्तीय राजधानी मुंबई को झकझोर देने वाले हमले में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस जैसी भीड़भाड़ वाली जगहें ताजमहल होटल और टावर, ओबेराय जैसे आलीशान होटल और ट्राइडेंट के साथ-साथ नरीमन हाउस मुख्य निशाना थे। मुंबई में पाश स्थलों पर विस्फोटों और गोलीबारी की श्रृंखला में 174 लोगों की मौत हुई थी, जबकि 300 घायल हो गए थे।

मुंबई को निशाना पाकिस्‍तान से समुद्र के रास्‍ते आए आठ आतंकियों ने बनाया था। सुरक्षा बलों ने इनमें से सात को मार डाला था, जबकि एक आतंकी अजमल कसाब को सुरक्षा बलों ने जिंदा पकड़ लिया था। पहले पाकिस्‍तान कसाब को अपना नागरिक बताने से मुकरता रहा था, बाद में भारत द्वारा समुचित प्रमाण देने के बाद उसे पाकिस्‍तान का नागरिक मानना पड़ा था।

उधर, पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट किया कि इमरान खान ऐसे खिलाड़ी हैं, जो आखिरी गेंद तक लड़ते हैं। उनका इस्तीफा नहीं होगा। यह एक मैच है, दोस्त और दुश्मन दोनों इसे देखेंगे।

इमरान को सत्ता से बेदखल करने का वक्त: मरियम

पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने कहा है कि इमरान खान को पाकिस्तान की सत्ता से बेदखल करने के लिए अंतिम धक्का देने का वक्त आ गया है। सोमवार को इस्लामाबाद में एक रैली में मरियम ने अपनी डगमगाती गद्दी को बचाने के लिए धार्मिक कार्ड का इस्तेमाल करने को लेकर इमरान खान की आलोचना की।

उधर, नवाज शरीफ की बेटी मरियम ने कहा, 'मैं आपको चुनौती देती हूं कि आप अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान के दिन अपने साथ 172 सांसद लेकर आएं।' उन्होंने इमरान पर अपनी सीट बचाने के लिए अपने सबसे भरोसेमंद बुजदार को दरकिनार करने का आरोप लगाया। मरियम ने कहा, 'आपने अपनी सत्ता बचाने के लिए अपने सबसे भरोसेमंद आदमी (बुजदार) को कुएं में धकेल दिया। हमने अपने पूरे जीवन में ऐसा एहसान फरामोश शख्स नहीं देखा।'