अधीर रंजन चौधरी ने अजय मिश्रा टेनी पर किया कटाक्ष, केंद्रीय मंत्री ने दिया करारा जवाब

 

Parliament Budget Session 2022: संसद की कार्यवाही आज भी जारी

बजट सत्र 2022 देश में विभिन्न ट्रेड यूनियनों के कर्मचारी आज हड़ताल पर हैं। कुछ जगहों पर हड़ताल का असर देखा जा रहा है। सीपीएम के दो सांसदों ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए राज्यसभा में नोटिस भी दिया है।

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र (Parliament Budget Session 2022) के दूसरे चरण की कार्यवाही आज भी जारी है। संसद के दोनों सदनों लोकसभा और राज्यसभा में आज कई अहम मुद्दों पर चर्चा चल रही है। हंगामे के चलते राज्यसभा और लोकसभा की कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा।

अधीर रंजन चौधरी और टेनी के बीच जुबानी हमला

सोमवार को आपराधिक प्रक्रिया (पहचान) विधेयक पर चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी पर ही आपराधिक छवि का आरोप लगाया। कांग्रेस नेता के इस आरोप के बाद टेनी ने भी प्रतिक्रिया दी और कहा कि अगर उनके खिलाफ एक भी मामला वह साबित कर दें, तो वह राजनीति से इस्तीफा दे देंगे।टेनी ने इसके बाद विधेयक पर चर्चा करते हुए बताया कि कैदियों की पहचान अधिनियम 1920 में बनाया गया था जो अब 102 वर्ष के बाद भी वर्तमान में लागू है। उन्होंने कहा कि दुनिया में तकनीकी और वैज्ञानिक परिवर्तन हुए हैं, अपराध और इसकी प्रवृत्ति भी बढ़ी है लेकिन इस अधिनियम में केवल उंगलियों के निशान और पैरों के निशान के संग्रह का प्रावधान है।

सीपीएम सांसदों ने दिया नोटिस

सीपीएम के सांसद बिनॉय विश्वम ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत 'केंद्र सरकार के निगमीकरण और निजीकरण की नीतियों के विरोध में देश भर के श्रमिकों द्वारा बुलाई गई दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल' के तहत निलंबन का नोटिस दिया है। सीपीएम के अन्य सांसद विकासरंजन भट्टाचार्य ने भी इस मुद्दे पर चर्चा के लिए नोटिस दिया है।

बता दें कि सरकार की नीतियों के विरोध में ट्रेड यूनियनों ने दो दिन 28 और 29 मार्च के लिए भारत बंद बुलाया है। बंद का मिलाजुला असर कुछ राज्यों देखा जा रहा है। हड़ताल को लेकर संयुक्त मंच ने एक बयान में कहा कि एस्मा (Essential Services Maintenance Act) के हरियाणा और चंडीगढ़ में लागू होने की आशंका के बावजूद रोडवेज, परिवहन और बिजली विभागों के कर्मचारियों ने हड़ताल में शामिल होने का फैसला किया है।

8 अप्रैल तक चलेगा बजट सत्र का दूसरा चरण

बता दें कि संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण 14 मार्च को शुरू हुआ था। दूसरा चरण 8 अप्रैल तक चलेगा। बजट सत्र 31 जनवरी को शुरू हुआ था और 11 फरवरी तक चला था।