टीएमसी ने राज्यसभा में की महंगाई पर चर्चा की मांग, चार सांसदों ने दिया निलंबन नोटिस

 

महंगाई पर चर्चा के लिए टीएमसी सांसदों का नोटिस

Parliament Budget Session 2022 संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण की कार्यवाही जारी है है। टीएमसी के चार सांसदों ने बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर राज्यसभा में चर्चा की मांग की है। उन्होंने निलंबन नोटिस दिया है।

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण की कार्यवाही बुधवार को भी जारी है। बजट सत्र की कार्यवाही का आज आठवां दिन है। बुधवार को भी लोकसभा और राज्यसभा में भी अहम मुद्दों पर चर्चा होगी। कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर ने लोकसभा में स्थगन नोटिस दिया है। उन्होंने रियल एस्टेट की बड़ी कंपनियो के दिवालिया के मामले में सरकार से हस्तक्षेप का आग्रह किया है। उन्होंने इस पर चर्चा का नोटिस दिया है।

वहीं, टीआरएस से सांसदों ने लोकसभा और राज्यसभा में जाति जनगणना पर चर्चा के लिए नियमों के निलंबन का प्रस्ताव पेश किया है। टीआरएस सांसद के केशव राव ने प्रस्ताव राज्यसभा में पेश किया जबकि नामा नागेश्वर राव ने लोकसभा में प्रस्ताव पेश किया है।

टीएमसी सांसदों का महंगाई पर चर्चा के लिए नोटिस

टीएमसी के चार राज्यसभा सांसदों मोहम्मद नदीमुल हक, डॉ शांतनु सेन, मौसम नूर और अबीर रंजन बिस्वास ने महंगाई के मुद्दे पर चर्चा के लिए नियम 267 के तहत निलंबन नोटिस दिया है।

8 अप्रैल तक चलेगा बजट सत्र का दूसरा चरण

बता दें कि संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण 14 मार्च को शुरू हुआ था। दूसरा चरण 8 अप्रैल तक चलेगा। बजट सत्र 31 जनवरी को शुरू हुआ था और 11 फरवरी तक चला था।