मूल्‍य वृद्धि से बचने का रोडवेज ने न‍िकाला अनोखा तरीका, इस जुगाड़ से पुराने मूल्‍य पर ही खरीद रहा डीजल

 

Petrol Diesel Price / Rate Today, 21 March 2022 डीजल के थोक मूल्‍य में भारी बढ़ोत्‍तरी हुई है।

Petrol Diesel Price / Rate Today 21 March 2022 पेट्रोल‍ियम कंपन‍ियों ने थोक में पेट्रोल खरीदने वाली कंपन‍ियों ग्राहकों के ल‍िए डीजल के मूल्‍य में करीब 25 रुपये की बढ़ोत्‍तरी की है लेक‍िन उत्‍तर प्रदेश पर‍िवहन न‍िगम ने इसकी काट न‍िकाल ली है।

गोरखपुर। थोक में डीजल के मूल्‍य में करीब 25 रुपये की वृद्धि हुई है लेक‍िन उत्‍तर प्रदेश पर‍िवहन न‍िगम ने इस मूल्‍य वृद्धि से बचने के ल‍िए अनोखा तरीका न‍िकाला है। पर‍िवहन न‍िगम भी थोक में डीजल खरीदता है लेक‍िन जबसे मूल्‍य वृद्धि हुई तब से पर‍िवहन न‍िगम ने पेट्रोल‍ियम कंपन‍ियों से सीधे पेट्रोल न खरीदकर बसों को पेट्रोल पंपों पर भेजकर डीजल खरीदवा रहा हे। इससे केवल गोरखपुर परिक्षेत्र को ही एक माह में करीब 60 लाख रुपये की बचत हुई है।

प्रत‍ि लीटर 25 रुपये की हुई है बढ़ोत्‍तरी : रूस और यूक्रेन के बीच छिड़े जंग के कारण कंपनियां थोक के भाव में तेल की लगातार कीमतें बढ़ा रहीं हैं। बढ़े हुए कीमत का सबसे अधिक प्रभाव परिवहन निगम पर दिख रहा है। निगम की बसें 26 फरवरी से बाजार के डीजल से दौड़ रही हैं। रोडवेज के पंपों का डीजल बाजार के कीमत से करीब छह रुपये महंगा हो गया है। इसके चलते निगम प्राइवेट पेट्रोल पंपों से डीजल भरवा रहा है। हालांकि, बाजार के डीजल से चलने पर निगम को प्रति लीटर एक रुपये की बचत हो रही है। गोरखपुर परिक्षेत्र स्थित गोरखपुर और राप्तीनगर डिपो की दर्जनों बसों में प्राइवेट पंपों से ही डीजल भरवा रही हैं।

थोक व पेट्रोल पंपों पर इतना है मूल्‍य में अंतर : पेट्रोल पंपों पर जब 86 रुपये प्रति लीटर डीजल बिक रहा था तब तेल कंपनियों ने परिवहन निगम के लिए डीजल का दाम करीब 92 रुपये प्रति लीटर कर दिया था। इस बीच थोक डीजल के मूल्‍य में फ‍िर बढ़ोत्‍तरी कर दी गई जबकि, प्राइवेट पंपों पर मूल्‍य लगभग पुराना ही है। ऐसे में परिवहन निगम प्रशासन ने प्राइवेट पंपों से भी डीजल भरवाने के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिया। प्राइवेट पंपों से डीजल भरवाने पर निगम को प्रतिदिन लगभग एक लाख रुपये की बचत हो रही है। बसें छूट दे रहीं चिन्हित पंपों से डीजल ले रही हैं। तेल कंपनियों ने लगातार दूसरी बार थोक के भाव में कीमत बढ़ाई हैं। लेकिन बसों में इसका परिवहन निगम पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। गोरखपुर परिक्षेत्र में करीब 700 बसें चलती हैं। इनमें प्रतिदिन करीब 20 हजार लीटर डीजल की खपत होती है।

फुटकर में र 86.87 रुपये प्रत‍ि लीटर : पिछले साल नवंबर महीने में केंद्र सरकार के बाद प्रदेश सरकार ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों के उत्पाद शुल्क में कमी थी इसके बाद भारत पेट्रोलियम के पंप पर कीमत डीजल प्रति लीटर 86.87, पेट्रोल 95.34 और स्पीड पेट्रोल 98.03 रुपये प्रति लीटर हो गई। तबसे एक बार डीजल की कीमत में कुछ पैसों की बढ़ोतरी हुई थी।