योगी सरकार के दोबारा शपथ लेने से पहले पुल‍िस मुस्‍तैद, सीतापुर और बहराइच में मुठभेड़ के बाद दो ग‍िरफ्तार

 

सीतापुर में मुठभेड़ के बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा 25 हजार का इनामी।

उत्‍तर प्रदेश के सीतापुर के महोली क्षेत्र में पुलिस ने इनामी अभियुक्त को मुठभेड़ के बाद पकड़ ल‍िया। अभियुक्त के पैरों में गोली लगी है। वहीं बहराइच में रामगांव पुलिस ने पाक्सो एक्ट के आरोप‍ित जो चार साल से था फरार को पकड़ ल‍िया है।

लखनऊ। योगी आद‍ित्‍यनाथ के अपराधी मुक्‍त उत्‍तर प्रदेश का सपना साकार करने में यूपी की पुल‍िस ने एक बार फ‍िर से मोर्चा संभाल ल‍िया है। गुरुवार को सीतापुर में मुठभेड़ के बाद और बहराइच में घेराबंदी कर इनामी अपराध‍ियों को दबोचने में पुल‍िस सफल रही। सीतापुर में पाल्हापुर-इनायतपुर मार्ग पर पास महोली पुलिस ने इनामी अभियुक्त को मुठभेड़ के बाद पकड़ ल‍िया। जवाबी कार्रवाई में इनामी अभियुक्त के पैरों में गोली लगी।  वहीं बहराइच में पिछले चार साल से फरार 25 हजार के इनामी अभियुक्त को रामगांव पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। अपहरण, दुष्कर्म, पाक्सो एक्ट सहित कई धाराओं में वांछित अभियुक्त वर्ष 2018 से पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था।

सीतापुर के महोली के बड़ागांव में रहने वाले अंबरीश यादव पर कई मुकदमे दर्ज हैं। वह लंबे समय से वांछित चल रहा था। अंबरीश की गिरफ्तारी के लिए उस पर 35 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। पुलिस इनामी को दबोचने का अभियान चला रही थी। गुरुवार सुबह इनामी अभियुक्त की पुलिस से मुडभेड़ हो गई। अभियुक्त ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। पुलिस टीम ने भी अपना बचाव करते हुए मोर्चा संभाला। पाल्हापुर-इनायतनगर रोड पर इनायतनगर के पास हुई मुठभेड़ में इनामी अंबरीश यादव घायल हो गया। पुलिस उससे लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र महोली पहुंची। प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

चार माह से था वांछित, बरामद हुआ अवैध असलहा : इनामी अभियुक्त अंबरीश यादव करीब चार महीने से वांछित था। पुलिस ने अभियुक्त के पास से एक अवैध असलहा व चार कारतूस बरामद की। अंबरीश यादव का आपराधिक रिकार्ड है। बताया जा रहा है कि अभियुक्त पर 15 से अधिक केस दर्ज हैं। गैर जमानती वारंट भी जारी है। अभियुक्त जिला बदर भी है।

प्रधान प्रतिनिधि है इनामी अंबरीश यादव : इनामी अभियुक्त अंबरीश यादव बड़ागांव के प्रधान का प्रतिनिधि बताया जाता है। उसकी पत्नी गांव की प्रधान है। गांव में होने वाले विवादों में आए दिन उसका नाम सामने आता है। कुछ माह पहले गांव की पुलिस चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों के सामने से  भी वह असलहे से फायर करते हुए भाग गया था।

बहराइच में चार साल से फरार 25 हजार का इनामी गिरफ्तार : बहराइच में पिछले चार साल से फरार 25 हजार के इनामी अभियुक्त को रामगांव पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। अपहरण, दुष्कर्म, पाक्सो एक्ट सहित कई धाराओं में वांछित अभियुक्त वर्ष 2018 से पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था। अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए उसके ठिकानों पर पुलिस छापेमरी कर रही थी।

अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अशोक कुमार ने बताया कि बीते 20 मार्च को पुलिस अधीक्षक ने उस पर 20 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। उन्होंने बताया कि थानाध्यक्ष अरुण कुमार त्रिगुणायक एवं चौकी प्रभारी हाइवे शशि प्रताप सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर मुखबिर का जाल बिछाया गया। इस दौरान सूचना मिली कि राजापुरमाफी गांव निवासी प्रकाश उर्फ जुगनू पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए कहीं भागने की फिराक में है। आनन-फानन में थाना क्षेत्र के हाइवे मोड़ पर घेराबंदी करते हुए अभियुक्त राजापुरमाफी गांव निवासी प्रकाश उर्फ जुगनू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। उसे गिरफ्तार करने वाली टीम में सिपाही सूरज सिंह, गौरव कुमार, शैलेश प्रजापति, सुनील कुमार आदि शामिल रहे।