ईंधन कीमतों को लेकर लामबंद विपक्ष पर बरसे केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, कहा- हमने नहीं बनाई दुनिया में खराब स्थितियां

 

तेल की कीमतों के मसले पर लामबंद विपक्ष पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने हमला बोला है।

देश में बढ़ रही तेल की कीमतों के मसले पर विपक्ष लामबंद है। इस सवाल पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Union Minister Piyush Goyal) ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय स्थितियां बिगड़ने के चलते पूरी दुनिया में चुनौतियां बढ़ी हैं।

नई दिल्‍ली, एएनआइ। देश में बढ़ती तेल की कीमतों (Hiked Fuel Prices) को लेकर लामबंद विपक्ष पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Union Minister Piyush Goyal) ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय स्थितियां बिगड़ने के चलते पूरी दुनिया में चुनौतियां बढ़ी हैं। ये अंतरराष्ट्रीय स्थिति हमने नहीं बनाई है। चुनाव खत्म होने के बाद अंतरराष्ट्रीय स्थितियां बिगड़ी। रही बात विपक्ष की तो वो जिस तरह एक के बाद एक चुनाव हार रहे हैं यह उनका निराशा निकालने का एक तरीका है।  केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को कहा कि यह विपक्ष की हताशा है कि वो तेल की कीमतों में बढ़ोतरी को चुनाव के खत्‍म होने से जोड़ रहे हैं और इसके लिए सरकार पर आरोप लगा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने छह और महीनों के लिए पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को बढ़ाया है। यह कदम चुनाव खत्‍म होने के बाद उठाया गया है। मैं विपक्ष से पूछता हूं कि क्‍या पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना केवल चुनावों के लिए है।

पीयूष गोयल (Union Minister Piyush Goyal) ने आगे कहा कि यूक्रेन संकट के बाद पूरी दुनिया में ईंधन की कीमतें तेजी से बढ़ी हैं। यही नहीं लगभग सभी खाद्य पदार्थों के साथ-साथ उर्वरकों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। मुद्रास्फीति के कारण दुनिया समस्याओं का सामना कर रही है। सरकार हर चीज की निगरानी कर रही है। इसके बावजूद सरकार ने इसे नियंत्रण में रखने की कोशिश की है। भारत ने अभी भी उर्वरकों और अनाज की कीमतों को नियंत्रण में रखा है।

वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल (Union Minister Piyush Goyal) ने शनिवार को यह भी कहा कि एक्सपो 2020 दुबई में इंडिया पवेलियन की सराहना की जा रही है। यह इस बात की झलक देता है कि भविष्य में भारत कैसे दुनिया में अग्रणी राष्‍ट्र बनेगा। एएनआई को दिए एक विशेष साक्षात्कार में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दुबई एक्सपो में भारतीय पवेलियन देश की संस्कृति और विकास की झलक दिखा रहा ह

ै।