कैपिटल हिल दंगे को लेकर ट्रंप के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने का आरोप, संसदीय समिति ने कोर्ट में दायर किया हलफनामा

 

ट्रंप के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने का आरोप (फाइल फोटो)

अमेरिका के कैपिटल हिल दंगे की जांच कर रही संसद की संयुक्त समिति ने कहा कि सुबूत बताते हैं कि पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके सहयोगियों ने राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को सत्यापित करने से कांग्रेस को रोकने के लिए यह आपराधिक साजिश रची थी।

वाशिंगटन, एजेंसियां: अमेरिका के कैपिटल हिल दंगे की जांच कर रही संसद की संयुक्त समिति ने कहा कि सुबूत बताते हैं कि पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके सहयोगियों ने राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को सत्यापित करने से कांग्रेस को रोकने के लिए यह आपराधिक साजिश रची थी। ऐसा करने के लिए उन्होंने अफवाहों का सहारा लिया और सरकारी कर्मचारियों पर चुनाव के नतीजे बदलने का दबाव डाला।

चुनाव के नतीजों को पलटने की कोशिश समिति ने एक मुकदमे में हलफनामा दाखिल करते हुए दावा किया कि ट्रंप और उनके सलाहकार व वकील जान ईस्टमैन ने मिलकर चुनाव के नतीजों को पलटने की नाकाम कोशिश की। इसीलिए वह कोशिश में हैं कि छह जनवरी, 2021 के दंगे संबंधी दस्तावेज समिति से छिपाना चाहते हैं। समिति ने यह भी आग्रह किया कि मौजूदा और भावी अपराधों के संबंध में दस्तावेज को उजागर करने के लिए यह मामला अपवाद है।

ट्रंप पर चुनाव में गड़बड़ी करने का आरोप

कैलीफोर्निया में अमेरिका की जिला अदालत में दायर इस हलफनामे में समिति ने कहा कि उन्हें यकीन है कि तत्कालीन राष्ट्रपति और उनके सहयोगियों ने अमेरिकी चुनावों में बड़ी गड़बड़ी करने के लिए आपराधिक साजिश को अंजाम दिया। 221 पेज के हलफनामे में समिति ने अपने औपचारिक प्रयासों के जरिये बताया है कि पूर्व राष्ट्रपति संघीय अपराध से जुड़े हुए हैं। हालांकि इसे उनके खिलाफ औपचारिक रूप से दर्ज मामला नहीं माना जा सकता क्योंकि सांसदों को इतने अधिकार हासिल नहीं हैं कि वह अपने दम पर राष्ट्रपति के खिलाफ आरोप दायर कर सकें। वह केवल इस मामले को केवल न्यायिक विभाग के समक्ष उठा सकते हैं। विभाग ने पहले ही इन दंगों की जांच शुरू कर दी है। लेकिन अभी तक इस बात का कोई संकेत नहीं दिया है कि ट्रंप के खिलाफ भी आरोप लगाए जाएंगे।