दिल्ली-एनसीआर में अभी से सताने लगी है गर्मी की तपिश, लू का अलर्ट जारी

 

दिल्ली-एनसीआर में अभी से सताने लगी है गर्मी की तपिश। फोटो ध्रुव कुमार।

मार्च के महीने का हाल यह है कि गर्मी के सितम से दिल्ली अभी से ही पानी-पानी हो रही है। दिल्ली के नरेला में 42 डिग्री तापमान पहुंच गया है। दिल्ली के अधिकतम तापमान की बात की जाए तो यह भी करीब 40 डिग्री को पार करने को बेताब है।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। दिल्ली सहित पूरे एनसीआर में गर्मी ने मार्च के महीने से ही अपना अहसास पुरजोर तरीके से करवा दिया है। मार्च के महीने का हाल यह है कि गर्मी के सितम से दिल्ली अभी से ही पानी-पानी हो रही है। दिल्ली के नरेला में 42 डिग्री तापमान पहुंच गया है। वैसे पूरी दिल्ली के अधिकतम तापमान की बात की जाए तो यह भी करीब 40 डिग्री को पार करने को बेताब है। सोमवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री अधिक 39.1 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 22.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

Ads by Jagran.TV

jagran

दो दिनों के लिए जारी हुआ लूट का अलर्ट

गर्मी से फिलहाल राहत मिलती नहीं दिख रही है। मौसम के तीखे होते तेवर के बीच कई जगह लू चलने की संभावना है। मौसम विभाग के अलर्ट के अनुसार दो दिन के लिए विभिन्न स्थानों पर लू चलने का पूर्वानुमान जारी कर दिया गया है।

कैमरे में कैद हुई बच्चों की मस्ती

इधर गर्मी बढ़ते ही बच्चे अपनी मस्ती के मूड में आ गए। तेज गर्मी में शास्त्री नगर के पास यमुना खादर में बने तालाब में बच्चे नहाने के लिए पहुंच गए फिर क्या था इनकी टोली ने जमकर मस्ती की। काफी देर तक बच्चे पानी में नहाते रहे बीच-बीच में एक दूसरे के ऊपर भी पानी डाल कर मस्ती की। 

गौरैया के लिए घरों में लगा रहे घोंसले

वहीं, बढ़ती गर्मी के बीच गौरैया को बचाने के लिए पीतमपुरा में अभियान चलाया गया। इस दौरान बच्चों व इलाके के लोगों को घोंसला बनाना सिखाने के लिए कार्यशाला आयोजित की गई। नेस्टमैन कहे जाने वाले राकेश खत्री ने पक्षियों के लिए घोंसले बनाए व बच्चों व महिलाओं को भी बनाने सिखाए। राकेश खत्री ने कहा कि गौरैया प्रकृति का उपहार है। इनका संरक्षण जरूरी है। पार्षद अंजू जैन ने कहा कि गर्मी बढ़ रही है। ऐसे में पक्षियों को भी पानी व आशियाने की जरूरत होती है।

उन्होंने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि अपने घर पर घोंसले व छत पर कटोरी में पानी भरकर जरूर रखें। उन्होंने बताया कि कार्यशाला के दौरान राकेश खत्री ने बच्चों व महिलाओं को घोंसले बनाना सिखाया। पार्षद ने बताया कि इस दौरान 35 घोंसले बनाए गए। इस घोंसलों को बच्चों व महिलाओं ने अपने घरों में लगाया है। यहां मंडल अध्यक्ष भरत बजाज, मंडल महामंत्री राजकुमार जैन, मंजू टंडन भी मौजूद रही।