बाइक सवार बदमाशों ने वित्त मंत्रालय के उप सचिव का फोन झपटा

 

दिल्ली में बाइक सवार बदमाशों ने मंत्रालय के बड़े अधिकारी का फोन झपटा।

दिल्ली के मंत्रालय में तैनात जितेंद्र असाती शनिवार को मंडी हाउस स्थित कमानी आडिटोरियम में ओडिशा पर्व के नाम से आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने गए थे। वह रात करीब नौ बजे चाणक्य पुरी स्थित अपने घर के लिए आटो पर निकले।

नई दिल्ली संवाददाता। राजधानी की सड़कों पर झपटमारों का राज है, यह बात कोई नई नहीं। लेकिन जब लुटियन दिल्ली इलाके में एक महत्वपूर्ण मंत्रालय के बड़े अधिकारी का फोन बाइक सवार बदमाश झपट कर फरार हो जाए तो इस पर पुलिस सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े होते हैं। तिलक मार्ग इलाके में शनिवार रात वित्त मंत्रालय के उप सचिव का आइफोन बाइक सवार दो बदमाश झपट कर फरार हो गए।

वह आटो में सवार होकर अपने घर की तरफ जा रहे थे। अधिकारी की शिकायत पर रविवार को तिलक मार्ग थाने में रिपोर्ट दर्ज की गई है। फिलहाल पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाल कर आरोपितों की पहचान करने का प्रयास कर रही है।

जानकारी के अनुसार, वित्त मंत्रालय बतौर उप सचिव तैनात जितेंद्र असाती शनिवार को मंडी हाउस स्थित कमानी आडिटोरियम में ओडिशा पर्व के नाम से आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने गए थे। वह रात करीब नौ बजे चाणक्य पुरी स्थित अपने घर के लिए आटो पर निकले।

इस दौरान ली मेरीडियन होटल के पास बाइक सवार दो बदमाश अचानक पहुंचे और उनके हाथ से आईफोन झपट कर फरार हो गए। इसके बाद घटना की सूचना पुलिस को दी गई। गौरतलब है कि इससे पहले भी झपटमारों द्वारा कई बड़े लोगों को निशाना बनाया जा चुका है। 14 मार्च को जामा मस्जिद मेट्राे स्टेशन के पास पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल का फोन एक बदमाश झपट कर फरार हो गया था। मामले में पुलिस ने घटना के कुछ घंटों के भीतर आरोपित को पकड़ कर फोन बरामद भी कर लिया था।

पुलिस सुरक्षा की खुली पोल : सुरक्षा के लिहाज से बेहद संवेदनशील लुटियन दिल्ली क्षेत्र में हुई इस घटना से पुलिस सुरक्षा व्यवस्था की पोल भी खोल दी है। आम तौर इस क्षेत्र में पुलिस की गश्त काफी होती है। सड़कों पर पुलिस की गाड़िया नजर आती हैं। इसके बावजूद बेखौफ बाइक सवार बदमाश झपटमारी की वारदात को अंजाम दे रहे हैैं।

लगातार बढ़ रही झपटमारी :

वर्ष--------घटनाएं

2019-------6266

2020-------7965

2021-------9383