वाट्सएप पर चोर कहा तो घर में घुस कर युवक को घोंपा चाकू

 

पुलिस ने आरोपित से चोरी के सामान बरामद किए हैैं।

दिल्ली पुलिस को फोन पर सूचना मिली थी कि एक शख्स पर चाकू से हमला किया गया है। पूछताछ में पता चला कि आरोपित वारदात के बाद आगरा और लखनऊ में कुछ दिन रहे उसके बाद दिल्ली के केशवपुरम में रह रहे थे।

नई दिल्ली surender Aggarwal। सराय रोहिल्ला पुलिस ने हत्या की कोशिश मामले में शास्त्री नगर निवासी दो बदमाश विवेक बंसल उर्फ चिक्की उर्फ चुन्नू और रिजवान को गिरफ्तार किया है। बदमाशों ने शास्त्री नगर निवासी नकुल को सिर्फ इसलिए चकू से गेंद दिया था क्योंकि पीड़िता उन्हें वाटसएप स्टेटस लगा कर चोर कहा था। गिरफ्तार बदमाशों पर पहले से सराय रोहिल्ला और गाजियाबाद के कौशांबी में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। बदमाशों के आपराधिक गतिविधियों के बारे में पहले से पीड़ित को पता था। पुलिस ने बदमाशों के पास से चाकू और चोरी के सामान बरामद किए हैैं।

उत्तरी जिले के डीसीपी सागर सिंह कलसी ने बताया कि होली के दिन सूचना मिली कि एक शख्स पर चाकू से हमला किया गया है। पुलिस पहुंची तो पता चल पीसीआर टीम घायल को अस्पताल लेकर पहुंची है। घायल नकुल ने पुलिस को बताया कि दोपहर करीब 12:30 बजे वह चुन्नी वाला पार्क के पास था, तभी मोनू नामक युवक अपने छह-सात दोस्तों के साथ पहुंचा और कहा कि नकुल आ रहा है, उसे पकड़कर मारो। नकुल जान बचाने के लिए भागकर अपने दोस्त के घर पहुंचे और ऊपर की मंजिल पर बाथरूम में खुद को बंद कर लिया। लेकिन तीन-चार लड़के पीछा कर बाथरूम का दरवाजा तोड़कर उसे पीटा शुरू कर दिया।

इसके बाद एक ने नकुल पर चाकू से हमला किया। पंड़ित छत पर भाग गया, लेकिन बदमाश यहां भी पहुंच गए और पटते रहे। इसके बाद आरोपित फरार हो गए। मामले की जांच के लिए एसीपी सराय रोहिल्ला की देखरेख में एसएचओ शीशफल, एसआइ विनोद नैन, मनोज, हवलदार संदीप, रामबाबू और सिपाही अमित, प्रिंस की टीम ने टेक्निकल सर्विलांस और लोकल इंटेलिजेंस की मदद से दो आरोपितों को कन्हैया नगर मेट्रो स्टेशन के पास पकड़ लिया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि पीड़ित नकुल को पहले से यह पता था कि विवेक बंसल उर्फ चिक्की उर्फ चुन्नू, रिजवान, मोनू, नमन और शिवम बदमाश हैं। ऐसे में करीब दो तीन सप्ताह नकुल ने वाट्सएप पर स्टेटस लगा कर यह लिखा था कि ये सभी चोर हैं। यह बाद मोनू को पता चल गई थी। ऐसे में बदला लेने के लिए बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया।

वारदात के बाद आरोपित फरार हो गए थे लखनऊ : पूछताछ में पता चला कि आरोपित वारदात के बाद आगरा और लखनऊ में कुछ दिन रहे उसके बाद दिल्ली के केशवपुरम में रह रहे थे। मामले में पुलिस अभी मोनू, नमन और शिवम की तलाश कर रही है।