मैदान के साथ तपे पहाड़, कई राज्यों में लू की चेतावनी, जानें- आपके राज्य में कैसा रहेगा मौसम

 

मौसम विभाग ने आज कई राज्यों में आज लू की संभावना है। येलो अलर्ट जारी किया है। (फाइल फोटो)

उत्तर भारत के तापमान में तेजी से वृद्धि हो रही है जिससे लोग परेशान हैं> राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। आज यहां का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार जा सकता है।

नई दिल्ली। उत्तर भारत में मार्च का अंत आते-आते मौसम (Weather Forecast Alert Today) ने भी अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। ऐसे में मैदानी राज्यों के साथ पहाड़ भी तपने लगे हैं। दिल्ली में मार्च में ही मई-जून जैसे हालात, तपती धूप और लू (heat wave) से लोगों का बुरा हाल होने लगा है। आज अधिकतम तापमान पहुंच सकता 40 डिग्री पार, मौसम विभाग ने दो दिन के लिए जारी किया हुआ है लू का अलर्ट, पूरा मार्च रहा सूखा, अगले एक हफ्ते में भी बारिश के नहीं आसार।

दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से लगातार तापमान बढ़ता नजर आ रहा है। पिछले कुछ ही दिनों में अधिकतम तापमान में 10 से 15 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। मार्च महीने में ही मई-जून वाली गर्मी पड़ने से लोग परेशान हैं। अब मौसम विभाग ने दिल्ली में गंभीर हीट वेव की चेतावनी दी है, जिसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग की ओर से वेदर को लेकर ट्वीट किया गया है जिसके अनुसार, अगले चार से पांच दिनों तक पश्चिमी मध्य प्रदेश, विदर्भ, राजस्थान में हीट वेव की स्थिति नजर आयेगी। वहीं दो दिनों तक जम्मू क्षेत्र, हिमाचल प्रदेश और सौराष्ट्र व कच्छ इलाके में लू लोगों के पसीने छुड़ाएगी।

हिमाचल के चार जिलों में गर्म हवाएं चलने का अलर्ट

हिमाचल के कई क्षेत्रों में मार्च में ही मई जैसी गर्मी दिखने लगी है। मौसम विभाग ने भी मंगलवार को हिमाचल के चार जिलों कांगड़ा, कुल्लू, मंडी और सोलन में गर्म हवाएं चलने की चेतावनी जारी की थी। इससे आने वाले दिनों में तापमान में वृद्धि होगी। बारिश न होने के कारण पहले से सूखे की मार झेल रही फसलों पर इसका सीधा असर पड़ेगा। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान से चली गर्मी हवाओं, पहाड़ों पर सूर्य की सीधी पड़ती किरणों और कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के कारण हिमाचल में इस तरह का मौसम बना है। मंगलवार को शिमला का न्यूनतम तापमान सामान्य से 7.3 डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया जबकि डलहौजी का सामान्य से 7.9 डिग्री अधिक रहा। वर्ष 2000 से अब तक के आंकड़ों के अनुसार, धर्मशाला में अधिकतम तापमान का रिकार्ड टूट गया है। 12 साल बाद 29 मार्च को सबसे अधिक 33.2 डिग्री तापमान दर्ज किया है। इससे पूर्व 29 मार्च, 2010 को 31.6 डिग्री तापमान रहा था।

लू की चपेट में झारखंड और ओडिशा

झारखंड और ओडिशा के कई जिले मार्च में ही लू की चपेट में आने लगे हैं। दोनों ही राज्यों में ज्यादातर शहरों का तापमान 40 डिग्री के पास या पार पहुंच गया है। अगले दो-तीन दिन दिनों में इन जिलों में दो से तीन डिग्री की और वृद्धि हो सकती है। हीट वेव को देखते हुए मौसम विभाग ने दोनों राज्यों के दो दर्जन से अधिक जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। झारखंड में यह पहला मौका है जब मार्च मे ही लू की स्थिति बन रही है। मौसम विभाग के वरिष्ठ विज्ञानी अभिषेक आनंद के अनुसार, 30 मार्च से झारखंड के गढ़वा, पलामू, लातेहार, चतरा, बोकारो, धनबाद, सिमडेगा, पूर्वी सिंहभूम, सरायकेला खरसावां, पश्चिमी सिंहभूम, गोड्डा समेत एक दर्जन जिलों में तेज लू चलेगी। अगले एक सप्ताह तक यह स्थिति बनी रहेगी। ओडिशा में ज्यादातर इलाके प्रभावित होंगे। इससे तापमान में दो से तीन डिग्री वृद्धि की संभावना है।