ये तरीका अपनाने से मिल जाएगा पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों से छुटकारा, खत्म हो जाएगी टेंशन; पैसे भी बचेंगे

 

ये तरीका अपनाने से मिल जाएगा पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से छुटकारा, खत्म हो जाएगी टेंशन; पैसे भी बचेंगे

Electric Vehicle in India जानकारों की मानें तो डीजल और पेट्रोल से संचालित वााहनों खासकर कारों को इलेक्ट्रिक वाहनों में तब्दील करने पर बैटरी क्षमता और रेंज के आधार पर 3 लाख से लेकर 5 लाख रुपये के बीच खर्च आता है।

नई दिल्ली,  डिजिटल डेस्क। दिल्ली में पिछले काफी दिनों से पेट्रोल और डीजल के दामों में इजाफा नहीं हुआ है। इंडियन आयल के मुताबिक, देश की राजधानी दिल्ली में बृहस्पतिवार को पेट्रोल 95 रुपये 41 पैसे और डीजल 86 रुपये 67 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। वहीं, देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल सबसे महंगा यानी 109.98 रुपये लीटर मिल रहा है। हैरत की बात है कि पेट्रोल दिल्ली में सबसे सस्ता 95.41 रुपये है। वहीं,  भोपाल (मध्य प्रदेश) जयपुर (राजस्थान) पटना (बिहार), कोलकाता (पश्चिम बंगाल) चेन्नई (तमिलनाडु) और बेंगलुरु (कर्नाटक) में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार बिक रहा है। ऐसे में देश में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर परेशान है तो आपके लिए एक अच्छी खबर भी है।

दरअसल, महंगे पेट्रोल और डीजल की गाड़ियों को इलेक्ट्रिक कार में तब्दील करवाने का विकल्प आ गया है। देश की कई कंपनियां पेट्रोल और डीजल वाहनों को 4 से 5 लाख रुपये में इलेक्ट्रिक कार में बदलने का विकल्प लेकर आई हैं। वैसे पेट्रोल और डीजल के वाहन को इलेक्ट्रि वाहन में तब्दील करवाने के दौरान खर्च मोटर की क्षमता और बैटरी क्षमता के अनुसार है।

कंपनियों के आफर के अनुसार, 12 किलो वाट की लिथियम-आयन बैटरी और 20 किलोवाट की इलेक्ट्रिक मोटर की कीमत तकरीबन4 लाख रुपये तक है। दिल्ली-एनसीआर वालों के लिए थोड़ा अधिक खर्चीला होगा, क्योंकि कन्वर्ट करने से जुड़ी ज्यादातर कंपनियां हैदराबाद में हैं। बावजूद इसके 10,000 से 20,000 रुपये तक अतिरिक्त खर्च आने का अनुमान है। पेट्रोल और डीजल वाहनों को इलेक्ट्रिक में तब्दील करने वाली कंपनियों में ईट्रायो और नॉर्थवेएमएस प्रमुख हैं। ये दोनों कंपनियां किसी भी पेट्रोल या डीजल कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करती हैं। इसके अलावा भी कई कंपनियां हैं जो पेट्रोल  और डीजल के वाहन को इलेक्ट्रिक में तब्दील करने का काम करती हैं। इनकी जानकारी आप इंटरनेट पर सर्च करके ले सकते हैं।

दिल्ली में भी मिल रही है सुविधा

दिल्ली में भी कई ऐसी कंपनियां हैं, जो पेट्रोल और डीजल वाहनों को इलेक्ट्रिक व्हीकल में तब्दील करने का काम करती हैं। फिलहाल कोई भी वैगनआर कार के अलावा, आल्टो, डिजायर, आइ-10, स्पार्क या दूसरी कोई भी पेट्रोल या डीजल कार इलेक्ट्रिक में तब्दील करवा सकता है। बाजार के जानकारों का कहना है कि लोग पेट्रोल और डीजल पर सालाना एक लाख रुपये से अधिक का खर्च करते हैं।