दिल्ली में किशोर की हत्या, सूटकेस में बंदकर सड़क पर फेंका शव

 

फारेंसिक टीम ने सूटकेस से फिंगरप्रिंट व अन्य साक्ष्य इकट्ठा किए।

दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में सफेद कुर्ते पजामा पहने किशोर के गले व शरीर पर धारदार हथियार से काटने के निशान थे। किशोर गुरुवार से ही घर से लापता था स्वजन की शिकायत पर शुक्रवार को रोहिणी दक्षिण थाने में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज की गई ।

नई दिल्ली, संवाददाता। मंगोलपुरी के वाई ब्लाक में शुक्रवार सुबह सूटकेस में किशोर का शव मिलने से हड़कंप मच गया। किशोर के हाथ पैर बंधे हुए थे व शरीर पर कई जगह चोटों के निशान थे। किशोर की पहचान रोहिणी सेक्टर एक के कृष्णा के रूप में हुई है। कृष्णा गुरुवार शाम से लापता था। आशंका जताई जा रही है कि किशोर की हत्या कर शव को सड़क पर फेंक दिया गया। पुलिस ने संजय गांधी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर शव स्वजन को सौंप दिया है। रोहिणी दक्षिण थाना पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह करीब साढ़े छह बजे राहगीरों को मंगोलपुरी के वाई ब्लाक में एक लावारिस सूटकेस देखा। उसमें से किशोर का एक पैर बाहर दिखाई दे रहा था। खून से लथपथ शव व हाथ-पैर बंधे होने की वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई व लोगों में दहशत का माहौल बन गया। फारेंसिक टीम ने सूटकेस से फिंगरप्रिंट व अन्य साक्ष्य इकट्ठा किए।

बाहरी जिला पुलिस उपायुक्त समीर शर्मा ने बताया कि सुबह सात बजे मंगोलपुरी इलाके में पीर बाबा मजार के पास बैंगनी रंग के सूटकेस में बरामद हुआ था। सफेद कुर्ते पजामा पहने किशोर के गले व शरीर पर धारदार हथियार से काटने के निशान थे। किशोर गुरुवार से ही घर से लापता था, स्वजन की शिकायत पर शुक्रवार को रोहिणी दक्षिण थाने में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज की गई । पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। आशंका है कि देर रात या फिर तड़के ही यह सूटकेस यहां रखा गया था। फिलहाल जांच जारी है।