संसदीय समिति ने जम्मू-कश्मीर में खेलों के लिए धन के कम उपयोग पर जताई चिंता

 

जम्मू-कश्मीर में खेलों के लिए धन के कम उपयोग पर जताई संसदीय समिति ने जताई चिंता (फाइल फोटो)

Parliament Budget Session 2022 भाजपा सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे की अध्यक्षता वाली एक समिति ने जम्मू-कश्मीर में खेलों के लिए धन के कम उपयोग पर चिंता जाहिर की है। समिति ने कहा कि खेल इन्फ्रास्ट्रक्चर में वृद्धि पर 31 दिसंबर 2021 तक एक भी पैसा खर्च नहीं किया गया।

नई दिल्ली, एएनआइ। संसद के बजट सत्र (Parliament Budget Session 2022) के दूसरे चरण की कार्यवाही 21 मार्च (सोमवार) तक के लिए स्थगित की गई है। बुधवार को संसद की कार्यवाही के दौरान कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। संसद की एक स्थायी समिति ने जम्मू-कश्मीर में खेलों के लिए धन के कम उपयोग पर चिंता व्यक्त की है। 

शिक्षा, महिला, बाल, युवा और खेल संबंधी संसदीय समिति ने बुधवार को संसद में पेश अपनी रिपोर्ट में कहा है कि प्रधानमंत्री विकास पैकेज (पीएमडीपी) के तहत केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में खेल इन्फ्रास्ट्रक्चर में वृद्धि पर 31 दिसंबर, 2021 तक कोई राशि खर्च नहीं की गई थी।

भाजपा सांसद की अध्यक्षता वाली समिति ने जताई चिंता

भाजपा सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे की अध्यक्षता वाली समिति ने जम्मू-कश्मीर में खेल सुविधाओं के निर्माण और विकास के लिए धन के कम उपयोग पर चिंता जताई है। समिति ने कहा है कि भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) को आवंटित धन के कम उपयोग के कारणों की पड़ताल करनी चाहिए। साथ ही यह सुनिश्चित करना चाहिए कि केंद्र शासित प्रदेश में खेल सुविधाओं की अनदेखी नहीं हो।

पीएम मोदी ने दी थी स्पेशल पैकेज को मंजूरी

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में खेल सुविधाएं और इन्फ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देने के लिए पीएम नरेन्द्र मोदी ने सात नवंबर 2015 को स्पेशल पैकेज को अनुमति दी थी। इस पैकेज को खेल इन्फ्रास्ट्रक्चर और कोच, ट्रेनर्स, फर्नीचर, इनाम राशि के लिए मंजूर किया गया था।