आप के राज्यसभा उम्मीदवारों के बाहरी नामों गरमाई राजनीति, बादल, वडिंग व सहगल ने किया विरोध

 

लंबी में मीडियाकर्मियों से बातचीत करते प्रकाश सिंह बादल। फोटो- जागरण

पंजाब में राज्यसभा की पांचों सीटों के लिए आम आदमी पार्टी ने नाम घोषित कर दिए हैं। पांचों ने नामांकन पत्र भी दाखिल कर दिया है। वहीं इन प्रत्याशियों में कुछ नाम बाहरी होने से विपक्षी दलों ने आप को आड़े हाथ लिया है।

 लंबी/चंडीगढ़/जालंधर। आम आदमी पार्टी ने पांच राज्यसभा सीटों के लिए प्रत्याशियों के नामों का एलान कर दिया है। पांचों प्रत्याशियों ने अपने नामांकन पत्र दाखिल भी कर दिए हैं। इस बीच, कुछ प्रत्याशियों को लेकर विपक्ष हमलावर है। विपक्ष का कहना है कि बाहरी राज्यों के लोगों को पंजाब से राज्यसभा सदस्य बनाया जा रहा है। 

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एवं शिअद के सरपरस्त प्रकाश सिंह बादल ने आम आदमी पार्टी की ओर से दिल्ली के लोगों को राज्यसभा के सदस्य बनाए जाने पर कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने ऐसा करके राज्य का हक छीना है। सभी राज्यसभा सदस्य पंजाब से ही होने चाहिए।

बादल ने कहा कि जिस स्टेट के विधायक होते हैं, वहीं के राज्यसभा सदस्य होते हैं। उन्होंने कहा कि अब इसी तरह से राज्य का पानी भी छीन लिया जाएगा। बादल ने यह बात सोमवार को लंबी हलके के गांवों में अपने धन्यवादी दौरे के दूसरे दिन पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कही।

पूर्व मुख्यमंत्री बादल ने कहा कि वे तो चुनाव के दौरान ही यह बात कह रहे थे, अगर प्रदेश में आप की सरकार आई तो दिल्ली से राज चलेगा। अब वही हो रहा है। अब इसके बाद यह पंजाब का पानी भी ले जाएंगे। पंजाब के मंत्री तो नाम के ही हैं, राज तो दिल्ली से ही चलेगा।

हरियाणा के मुख्यमंत्री की ओर से पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से एसवाइएल का मुद्दा हल करने की मांग पर बादल ने कहा कि प्रदेश के पानी पर पंजाब का ही हक है। जिस राज्य में दरिया बहते हैं, पानी का अधिकार उसी राज्य का होता है। शिअद ने यह नहर नहीं बनने दी। अब देखो आम आदमी पार्टी क्या करती है। बिक्रम मजीठिया के केस में नई एसआइटी के गठन के सवाल पर बादल ने कहा कि राज्य में शिअद ही एकमात्र सूबे के अधिकारों के लिए लड़ने वाली पार्टी ह 

वडिंग ने भगवंत मान को लिखा पत्र

कांग्रेस विधायक व पूर्व मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वाडिंग ने भी बाहरी लोगों को प्रत्याशी बनाने पर एतराज जताया। उन्होंने मुख्यमंत्री भगवंत मान को एक पत्र लिखकर कहा है कि पंजाब से लोगों ने आम आदमी पार्टी पर बहुत बड़ा भरोसा जता कर उन्हें विधानसभा में भेजा है। वह भी पंजाब और पंजाबियत की बात करते आ रहे हैं और पंजाब और पंजाबियत पर पहरा देने का समय आ गया है।

भाजपा ने कहा- किसी आम आदमी को भी राज्यसभा सदस्य बनाए आप

वहीं, भाजपा राज्य कार्यकारिणी सदस्य मोंटी गुरमीत सहगल ने आम आदमी पार्टी (आप) की तरफ से राज्यसभा सदस्य मनोनीत किए जाने की प्रक्रिया के ऊपर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मोंटी गुरमीत सहगल ने कहा है कि आम आदमी की पार्टी चलाने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा किसी आम आदमी को भी राज्यसभा सदस्य बनाया जाना चाहिए था।