लगातार बढ़ती गर्मी के बीच पढ़िये- मौसम विभाग की ताजा भविष्यवाणी

Delhi Health ALERT ! लगातार बढ़ती गर्मी के बीच पढ़िये- मौसम विभाग की ताजा भविष्यवाणी

Delhi Weather News दिल्ली के साथ- साथ एनसीआर के शहरों में भी इसी तरह गर्मी का धीरे-धीरे बढ़ना जारी रहेगा। अगले एक सप्ताह के दौरान इसी तरह का मौसम रहेगा। इस बीच तापमान 32 डिग्री के पार जा सकता है।

नई दिल्ली ,दिल्ली-एनसीआर में गर्मी में इजाफा तेजी से जारी है। न्यूनतम और अधिकतम तापमान में इजाफा होने के चलते घरों में अब लोग दिन के साथ रात में भी पंखे चलाने को मजबूर हो रहे हैं, जबकि दफ्तरों में पिछले सप्ताह से एयर कंडीशन चलाने की जरूरत महसूस होने लगी थी। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, गर्मी का एहसास लगातार बढ़ रहा है। दिन और रात के बाद अब सुबह -शाम भी गर्म होने लगी है। गर्म कपड़े तो अलमारी में रखे ही गए, पंखे के बिना रहना भी मुश्किल सा होने लगा है। मौसम विभाग की मानें तो अगले एक सप्ताह तक ऐसे ही रोजाना तेज धूप खिलेगी। तापमान भी बढ़ेगा। किसी बदलाव की कोई संभावना नहीं लग रही। वहीं, मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक ही शनिवार सुबह से तेज धूप खिली हुई है और दिनभर आसमान भी साफ रहेगा। शनिवार को 20 से 30 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलेगी। इसकी शुरुआत शनिवार सुबह से हो चुकी है, जबकि अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान क्रमश: 31 एवं 15 डिग्री रह सकता है।

वहीं, इससे पहले शुक्रवार को दिन भर धूप खिली रही। अधिकतम तापमान सामान्य स्तर पर 29.6 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 15.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। हवा में नमी का स्तर 33 से 91 प्रतिशत दर्ज हुआ। वहीं नजफगढ़ में अधिकतम तापमान सर्वाधिक 31.4 जबकि स्पोर्टस काम्प्लेक्स में न्यूनतम तापमान सर्वाधिक 20.0 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। 

मध्यम श्रेणी में रही दिल्ली एनसीआर की हवा

शुक्रवार को दिल्ली एनसीआर की हवा मध्यम श्रेणी में दर्ज की गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार दिल्ली का एयर इंडेक्स 164 रहा। एनसीआर में फरीदाबाद का एयर इंडेक्स 168, गाजियाबाद का 162, ग्रेटर नोएडा का 129, गुरुग्राम का 170 और नोएडा का 135 दर्ज किया गया। दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 70 जबकि पीएम 10 का स्तर 168 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया गया। सफर इंडिया का कहना है कि अभी वायु प्रदूषण मध्यम से खराब श्रेणी में ही बना रहेगा।