मतदान प्रतिशत में आठ घंटे बाद भी अम्बेडकरनगर की बढ़त बरकरार,कुशीनगर के वोटर भी दिखा रहे दम

 

यूपी चुनाव चरण 6 मतदान 2022 लाइव अपडेट: मतदाताओं में उत्‍साह

UP Election 2022 Phase 6 Live News उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के गठन के लिए छठे चरण का मतदान जारी है। दोपहर तीन बजे तक दस जिले के 57 विधानसभा क्षेत्र में 46.70 प्रतिशत मतदान हो गया था। अम्बेडकरनगर ने अपनी बढ़त लगातार जारी रखी है।

लखनऊ । UP Election Phase 6 Voting Live (लाइव यूपी चुनाव चरण 6 मतदान 2022): उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के गठन के लिए छठे चरण का मतदान जारी है। दस जिलों के 57 विधानसभा क्षेत्र के लिए मॉक पोलिंग के बाद मतदान प्रारंभ हो गया ।

छठे चरण में सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ उनके सात मंत्रियों, नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी तथा बसपा विधायक दल के नेता उमाशंकर सिंह व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की प्रतिष्ठा दांव पर है। इस चरण में 2.15 करोड़ मतदाता सीएम योगी आदित्यनाथ सहित 676 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इनमें 66 महिला प्रत्याशी हैं। वर्ष 2017 में 57 सीट में 46 सीटों पर भाजपा का कब्जा था।मतदान प्रतिशत में आठ घंटे बाद भी अम्बेडकरनगर की बढ़त बरकरार : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में छठे चरण के मतदान के दौरान मतदाता काफी जोश में हैं। दोपहर तीन बजे तक दस जिले के 57 विधानसभा क्षेत्र में 46.70 प्रतिशत मतदान हो गया था। अम्बेडकरनगर ने अपनी बढ़त लगातार जारी रखी है। नौ जिलों में भी मतदान ने गति पकड़ ली थी। आठ घंटे के मतदान के बाद अम्बेडकरनगर में सर्वाधिक 52.40 तथा बलरामपुर में सबसे कम 42.67 प्रतिशत मतदान हो गया था। तीन बजे तक अम्बेडकरनगर में 52.40 प्रतिशत, बलिया में 46.48, बलरामपुर में 42.67, बस्ती में 46.49, देवरिया में 45.35, गोरखपुर में 46.44, कुशीनगर में 48.49, महराजगंज में 47.54, संतकबीर नगर में 44.67 तथा सिद्धार्थनगर में 46.70 प्रतिशत मतदान हो गया था।

jagran

एक बजे तक 36.33 प्रतिशत मतदान, अम्बेडकरनगर सबसे आगे : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में छठे चरण के मतदान में सुबह सात बजे से ही मतदाता उत्साहित हैं। दस जिलों के 57 विधानसभा क्षेत्र में 1 बजे तक यानी छह घंटे में 36.33 प्रतिशत मतदान हुआ है। इसमें अम्बेडकरनगर में सर्वाधिक 40.60, कुशीनगर में 39.36 तथा बस्‍ती में 37.48 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां पर मतदाता काफी उत्साहित हैं। जबकि बलरामपुर में वोटिंग प्रतिशत रफ्तार नहीं पकड़ रहा है। यहां छह घंटे में 29.89 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। सुबह 11 से दोपहर 1 बजे के बीच में अम्बेडकरनगर में 40.60, बलिया में 36.39, बलरामपुर में 29.89, बस्ती में 37.48, देवरिया में 34.95, गोरखपुर में 36.63, कुशीनगर में 39.36, महराजगंज में 35.32, संतकबीर नगर में 34.42 तथा सिद्धार्थनगर में 36.51 प्रतिशत मतदान हुआ।

jagran

बलिया में मंत्री उपेन्द्र तिवारी की दारोगा से बहस तो भाजपा प्रत्याशी केतकी सिंह पर धक्का-मुक्की का आरोप : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में छठें चरण के मतदान के दौरान धूप तेज होते ही प्रत्याशी भी गरम हो रहे हैं। बागी धरती मानी जाने वाले बलिया में गुरुवार को मतदान के दौरान मंत्री उपेन्द्र तिवारी की एक दारोगा से बहस हो गई। दारोगा के मतदान केन्द्र में टहलने से मना करने पर मंत्री काफी गरम हो गए। फेफना क्षेत्र के गड़वार बूथ पर मंत्री उपेन्द्र तिवारी को जब पुलिस ने रोका तो मंत्री की दारोगा से तीखी बहस होने लगी।

jagran

उधर बलिया के ही बांसडीह से भाजपा-निषाद पार्टी की प्रत्याशी केतकी सिंह पर ससुर के साथ मतदाताओं से धक्का-मुक्की का आरोप है। केतकी सिंह पर आरोप है कि बलिया के बांसडीह विधानसभा के असेगा बूथ पर पहुंचकर उन्होंने अपने ससुर के साथ मिलकर मतदाताओं के साथ धक्का-मुक्की की और धमकाते हुए कहा कि पांच बजे के बाद हम देख लेंगे। हमने सभी का चेहरा पहचान लिया है। भाजपा प्रत्याशी केतकी सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा है। केतकी का मुख्य मुकाबला नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी से है। केतकी पर आरोप है कि एक क्षेत्र विशेष में जा कर वह मतदाताओं को धमका रही हैं। इस आशय का एक वीडियो गुरुवार को खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह किसी को दस जूते मारने और एक गिनने की बात कह रही हैं। स्‍थानीय लोगों के अनुसार उनका सपा नेता सुनील सिंह से यहां पर विवाद हुआ है।

jagran

चार घंटे में 21.79 प्रतिशत मतदान, बस्ती में मतदाता उत्साहित तो बलरामपुर में सुस्त : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में छठे चरण के मतदान में सुबह सात बजे से ही मतदाता उत्साहित हैं। दस जिलों के 57 विधानसभा क्षेत्र में 11 बजे तक यानी चार घंटे में 21.79 प्रतिशत मतदान हुआ। इसमें बस्ती में सर्वाधिक 23.33, कुशीनगर में 23.24 तथा अम्बेडकरनगर में 23.10 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां पर मतदाता काफी उत्साहित हैं। जबकि बलरामपुर में वोटिंग प्रतिशत रफ्तार नहीं पकड़ रहा है। यहां चार घंटे में 18.98 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। सुबह नौ से 11 बजे के बीच में अम्बेडकरनगर में 23.10, बलिया में 21.87, बलरामपुर में 18.98, बस्ती में 23.33, देवरिया में 19.58, गोरखपुर में 21.81, कुशीनगर में 23.24, महराजगंज में 21.12, संतकबीर नगर में 20.83 तथा सिद्धार्थनगर में 23.42 प्रतिशत मतदान हुआ।

jagran

दो घंटे में 8.69 प्रतिशत मतदान, बस्ती में मतदाता उत्साहित तो संतकबीर नगर में बेहद सुस्त : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में छठे चरण के मतदान में सुबह सात बजे से ही मतदाता उत्साहित थे। दस जिलों के 57 विधानसभा क्षेत्र में नौ बजे तक यानी दो घंटे में 8.69 प्रतिशत मतदान हो गया था। इसमें बस्ती में सर्वाधिक 9.88, कुशीनगर में 9.64 तथा अम्बेडकरनगर में 9.46 प्रतिशत मतदान हुआ था। यहां पर मतदाता काफी उत्साहित हैं जबकि संतकबीर नगर में मतदाता बेहद सुस्त हैं। यहां पर दो घंटे में 6.80 प्रतिशत वोट ही पड़े थे। सुबह सात से नौ बजे के बीच में अम्बेडकरनगर में 9.46, बलिया में 7.57, बलरामपुर में 8.13, बस्ती में 9.88, देवरिया में 8.39, गोरखपुर में 8.96, कुशीनगर में 9.64, महराजगंज में 8.90, संतकबीर नगर में 6.80 तथा सिद्धार्थनगर में 8.20 प्रतिशत मतदान हो गया था।

jagran

कई जिलों में ईवीएम में खराबी आने से मतदान बाधित : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में छठे चरण में मतदान प्रात: सात बजे से जारी है। इसी दौरान महाराजगंज, बलिया, कुशीनगर तथा सिद्धार्थनगर में ईवीएम में खराबी होने के कारण मतदान बाधित रहा। महराजगंज के सदर विधानसभा में बूथ संख्या 432 पर ईवीएम खराब होने से सुबह से लाइन में लगे मतदाता परेशान होने लगे। यहां पर पोलिंग टीम ने ईवीएम को दुरुस्त किया । बलिया के सिकंदरपुर के गोसाईपुर में गोसाईपुर प्राथमिक विद्यालय में बूथ संख्या 121 पर ईवीएम खराब हो गई। कुशीनगर के मिश्रौली में बूथ संख्या 250 में तथा आनंदपुर के बूथ संख्या 36 व 37 की ईवीएम खराब होने से आधे घंटे मतदान प्रभावित रहा। इसी तरह सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज में बसडिलिया में बूथ संख्या 189 पर ईवीएम मशीन खराब होने से मतदान प्रभावित रहा।

jagran

ईवीएम में खराबी से सीएम योगी आदित्यनाथ 20 मिनट विलंब से डाल सके वोट : गोरखपुर शहर से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को प्रात: 6:57 मिनट पर मतदान केन्द्र पहुंचे थे। इसी दौरान वहां के बूथ पर ईवीएम में खराबी हो गई। जिसके कारण सीएम योगी आदित्यनाथ वोटिंग के लिए अपने निर्धारित समय प्रात: सात बजे के स्थान पर करीब 20 मिनट देरी से मतदान कर सके। हर विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ सवेरे-सवेरे इसी पोलिंग बूथ पर मतदान करते हैं। पिछले 5 साल में उनके लिए पूरी राजनीति बदल गई है। 2017 के चुनाव में बीजेपी के स्टार प्रचारक थे। इस बार मुख्यमंत्री के रूप में ये चुनाव उनके लिए परीक्षा है।

इससे पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री और गोरखपुर के गोरखपुर शहर विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को भी अपनी दिनचर्या के अनुरूप पूजा-पाठ के बाद गौ-सेवा की और फिर मतदान केन्द्र पहुंचे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के छठे चरण के लिए गोरखपुर के प्राथमिक विद्यालय गोरखनाथ कन्या नगर क्षेत्र में अपना वोट डाला। इससे पहले उन्होंने अपनी कर्मस्थली गोरखनाथ मंदिर में पूजा की।

छठे चरण में अम्बेडकरनगर, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संत कबीर नगर, महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया व बलिया में मतदान होगा। इस चरण में 11 सीटें सुरक्षित हैं। चुनाव आयोग ने निष्पक्ष व शांतिपूर्ण मतदान के लिए सभी तैयारियों को बुधवार को पूरा कर लिया था। चुनाव आयोग ने इन जिलों के डीएम व पुलिस कप्तान से तैयारियों की विस्तृत रिपोर्ट ली है। छठे चरण में 13,936 मतदान केन्द्रों के 25,326 मतदेय स्थलों (पोलिंग बूथ) पर वोट डाले जाएंगे। आयोग ने 1113 आदर्श मतदान केंद्र बनाए हैं। 76 पिंक पोलिंग बूथ भी बने हैं इनमें सभी कर्मी महिलाएं हैं।

सीएम योगी व नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी सहित कई की प्रतिष्ठा दांव पर : छठे चरण के चुनाव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर शहर सीट से चुनाव मैदान में हैं। बलिया की बांसडीह से नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी सपा प्रत्याशी हैं। इटवा सीट से बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी मैदान में हैं तो उनसे मुकाबले में सपा के कद्दावर नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय चुनाव लड़ रहे हैं। फाजिलनगर सीट से स्वामी प्रसाद मौर्य सपा प्रत्याशी हैं। इसी तरह कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू कुशीनगर की तमकुहीराज से चुनाव लड़ रहे हैं। बसपा प्रत्याशिमों में प्रमुख नाम रसड़ा से चुनाव लड़ रहे उमाशंकर सिंह का है। देवरिया की पथरदेवा सीट से कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही, सिद्धार्थनगर की बांसी सीट से स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह गोरखपुर की खजनी सीट से उद्यान राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीराम चौहान, बलिया की फेफना सीट से खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी, बलिया की बैरिया सीट से ग्राम्य विकास राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला व गोरखपुर के चौरीचौरा विधान सभा क्षेत्र से पशुधन राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। अंबेडकरनगर की कटेहरी सीट से लालजी वर्मा व अकबरपुर से राम अचल राजभर सपा के टिकट से चुनाव लड़ रहे हैं।

57 में से 46 सीटों पर था भाजपा का कब्जा: वर्ष 2017 के चुनाव में इन 57 सीटों में से 46 सीटें भाजपा के पास थीं। बसपा के पास पांच, सपा के पास दो सीटें थीं। कांग्रेस, अपना दल, सुभासपा व निर्दलीय के खाते में एकएक सीट थी। वहीं, 2012 के विधान सभा चुनाव में सपा के खाते में 32 सीटें थीं। बसपा के पास नौ, भाजपा के पास आठ, कांग्रेस के पास पांच, पीस पार्टी के पास दो व एनसीपी के पास एक सीट थी।

केन्द्रीय बलों की 851 कंपनियां तैनात : एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि मतदान के लिए केंद्रीय बलों की 851 कंपनियां तैनात हैं। इनमें से बूथों पर 798 कंपनी, स्ट्रांग रूम ड्यूटी के लिए 18 कंपनी लगाई गई है। करीब 45 कंपनी केंद्रीय बल कानून व्यवस्था में लगाई गई है। इसके अलावा पुलिस के 6,783 इंस्पेक्टर एवं सब इंस्पेक्टर, 57,550 मुख्य आरक्षी एवं आरक्षियों को लगाया गया है। चुनाव में 17 कंपनी पीएसी, 46,236 होमगार्ड, 1627 पीआरडी जवान व 15,004 चौकीदारों को भी चुनाव ड्यूटी में लगाया गया है।

चुनाव प्रक्रिया की निगरानी के लिए एक वरिष्ठ सामान्य प्रेक्षक, एक वरिष्ठ पुलिस प्रेक्षक व दो वरिष्ठ व्यय प्रेक्षक भी तैनात किए गए हैं। उन्होंने बताया कि सभी मतदाताओं को जिला निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से मतदाता पर्ची वितरित कराई जा चुकी है। इसके जरिए मतदाताओं को मतदेय स्थल व क्रम संख्या की जानकारी हो सकेगी। इसके अलावा मतदाता वोटर हेल्पलाइन एप, भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के माध्यम से भी अपने मतदेय स्थल की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

चप्पेचप्पे पर नजर रखेंगे मजिस्ट्रेट : छठे चरण के मतदान में निगरानी के लिए 56 सामान्य प्रेक्षक, 10 पुलिस प्रेक्षक तथा 18 व्यय प्रेक्षक तैनात किए गए हैं। इनके अलावा 1680 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 228 जोनल मजिस्ट्रेट और 173 स्टैटिक मजिस्ट्रेट व 2137 माइक्रो आब्जर्वर लगाए गए हैं।

छठा चरण : एक नजर में

  • कुल मतदाता : 2.15 करोड़
  • पुरुष मतदाता : 1.15 करोड़
  • महिला मतदाता : 1.00 लाख
  • थर्ड जेंडर मतदाता : 1363
  • कुल प्रत्याशी : 676
  • महिला प्रत्याशी : 66
  • कुल इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) : 25,326
  • माइक्रो आब्जर्वर : 2137
  • सामान्य प्रेक्षक : 56
  • व्यय प्रेक्षक : 18
  • पुलिस प्रेक्षक : 10
  • मतदान में लगे कार्मिक1,10,281
  • मतदान कार्य में लगे हल्के वाहन : 6,114
  • मतदान कार्य में लगे भारी वाहन : 4,005
  • आदर्श मतदान केंद्र1113
  • पिंक बूथ 76